हरेरामपुर-हरखपुरा ग्रामीण मार्ग पर हुआ हादसा:शिक्षिका को गन्ना लोड ट्रैक्टर ट्रॉली ने रौंदा, मौत

छौड़ाही19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

छौड़ाही व गढ़पुरा थाना क्षेत्र से सटे हरेरामपुर-हरखपुरा ग्रामीण मार्ग पर शुक्रवार की दोपहर गढ़पुरा से कंप्यूटर पढ़ाकर लौट रही एक शिक्षिका की मौत गन्ना लोड ट्रैक्टर की चपेट में आने से हो गई। जानकारी के अनुसार, रोज की भांति साईकिल से मृतका अपने गांव लौट रही थी तभी दोपहर 2 बजे के करीब ऐजनी गांव की ओर से आ रही गन्ना लोड ट्रैक्टर ट्रॉली ने हनुमान मंदिर मोड़ के समीप उसे रौंद दिया। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि मोड़ पर ट्रैक्टर के घुमने के दौरान मृतका का संतुलन बिगड़ गया और वह साइकिल लेकर सड़क पर गिर पड़ी और ट्रैक्टर ट्रॉली ने उसे रौंद दिया। जिससे घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। मृतका की पहचान ऐजनी पंचायत के हरेरामपुर गांव अन्तर्गत वार्ड 6 निवासी स्व हरिचरण पासवान की 21 वर्षीया पुत्री मोनिका कुमारी के रूप में हुई है।

जनप्रतिनिधि व समाजसेवियाें ने मुअावजा की मांग की : सूचना पाकर प्रखंड प्रमुख सतीश कुमार, पंचायत के मुखिया पंकज दास, सरपंच अजमत अली, समाजसेवी दानिश आलम, विद्यानंद राय ने परिजनों को सांत्वना दी और ट्रैक्टर चालक व स्वामी को बुलाकर परिजनों को उचित मुआवजा देने की मांग करने लगे। ट्रैक्टर स्वामी को गांव बुलाकर जनप्रतिनिधि व समाजसेवी समाजिक स्तर पर मामले को सुलझाने में लगे हुए थे।

एक मात्र कमाऊ सदस्य थी माेनिका
इधर घटना के बाद ट्रैक्टर चालक वाहन लेकर फरार हाे गया किंतु स्थानीय लोगों ने चालक तथा वाहन स्वामी के भी स्थानीय होने की बात बताई है। घटना की खबर पाकर परिजनों में कोहराम मच गया तथा जानकारी मिलते ही ग्रामीणों का हुजूम घटनास्थल पर उमड़ पड़ा। ग्रामीणों ने बताया कि मृतका मोनिका बीए पास करने के बाद कंप्यूटर शिक्षा ग्रहण कर गढपुरा में एक निजी कंप्यूटर संस्थान में कंप्यूटर क्लास पढ़ाकर अपने परिवार के सदस्यों का भरण-पोषण भी कर रही थी। मृतका चार भाई बहनों में सबसे छोटी थी और एकलौते भाई के बीमार रहने तथा बहन की शादी व पिता के देहांत उपरांत परिवार का एकमात्र कमाऊ सदस्य थी। सड़क दुर्घटना के सदमे से माता बौधी देवी, बहन सोनिया कुमारी, भाई गोविंद कुमार दहाड़े मारकर रो रहे थे। जिनके करूणा कृंदन से पूरे गांव में मातम छा गया।

खबरें और भी हैं...