संतान के लिए व्रत:संतान की दीर्घायु के लिए जिउतिया पर माताओं ने रखा निर्जला उपवास, सलामती की कामना की

दाउदनगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दाउदनगर में जिउतिया को लेकर उमड़ी महिलाओं की भीड़। - Dainik Bhaskar
दाउदनगर में जिउतिया को लेकर उमड़ी महिलाओं की भीड़।
  • शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में जिउतिया के व्रत को लेकर दिखा उत्सव का माहौल
  • दाउदनगर शहर नकल के रंग में रंगा, कलाकारों ने किया परंपरा का पालन

पूरे जिले में जीवित्पुत्रिका का पर्व बुधवार को परंपरागत ढंग से मनाया गया। व्रती महिलाओं ने तालाब, पोखरे और मंदिरों में विधि विधान से पूजन अर्चन कर पुत्रों की दीर्घायु के लिए कामना की। महिलाएं घाटों पर एकत्रित होकर पारंपरिक तरीके (गोठ) से ईख के मंडप बनाकर उसमें फल फूल आदि सजाकर विधि पूर्वक पूजन अर्चन के बाद राजा जीमूतवाहन एवं चील सियार की कथा का श्रवण किया।

वहीं कई प्रखंडो में ओखली पूजने की भी परंपरा निभाई गई। शहर से ग्रामीण क्षेत्र तक पूजा को लेकर उत्साह देखते ही बन रहा था। सदर, ओबरा, हसपुरा, गोह , रफीगंज, देव, मदनपुर, नवीनगर, कुटुम्बा, बारूण सहित सभी प्रखंडों में पूजा की धूम देखने को मिली।

दोपहर बाद से पूजा करने का सिलसिला जो शुरू हुआ जो देर शाम तक चला
दाउदनगर में व्रती शुद्धतापूर्वक स्नान करने के बाद थाल या चंगेरी में पूजन सामग्री लेकर पटवाटोली इमली तल चौक, बाजार चौक ,कसेरा टोली चौक एवं पुराना शहर चौक स्थित भगवान जीमूत वाहन की प्रतिमा के समक्ष पहुंचीं और दीया जलाकर रोली चंदन के साथ सोना, चांदी या धागे की बनी जिउतिया रख कर पूजा अर्चना की।

पूजा अर्चना को लेकर जुमुतवाहन चौकों पर व्रती महिलाओं की काफी भीड़ देखी गई। दोपहर बाद से पूजा करने का सिलसिला शुरू हुआ, वह देर शाम तक चलता रहा।व्रती महिलाओं ने पहुंचकर पूरी श्रद्धा भाव के साथ पूजा अर्चना की और अपने संतान की दीर्घायु होने की कामना की। संबंधित पूजा कमेटियों द्वारा पूजा को लेकर विशेष प्रबंध किए गए थे।

जिउतिया के रंग में रंगा दाउदनगर, नकल अभिनय की दे रहे प्रस्तुति
दाउदनगर पूरी तरह से जिउतिया के रंग में रंगा दिखा। बुधवार को स्थानीय लोक कलाकारों द्वारा जमकर नकल का प्रदर्शन किया गया और स्वांग कला दिखाया गया। शहर के सभी गली व सड़क में कोई न कोई नकलों की प्रस्तुति देखने को मिल रही थी। ऐतिहासिक, धार्मिक, राजनीतिक सामाजिक, हास्य -परिहास, समसामयिक समेत अन्य मुद्दों पर नकलों की प्रस्तुति की जा रही है। एक से बढ़कर एक परंपरिक नकलों की प्रस्तुति की जा रही है। इस परंपरा के पालन

पुत्र के दीर्घायु व आरोग्य कामना को लेकर महिलाओं ने रख निर्जला व्रत
पुत्र के दीर्घायुष्य व आरोग्य कामना को लेकर महिलाओं ने बुधवार को जीवित्पुत्रिका का निर्जला व्रत रखा। गोह प्रखंड के देवकुंड स्थित सहस्त्र धारा कुंड एवं बाबा दूधेश्वरनाथ मंदिर परिसर में सूर्य देव व भगवती जगदंबिका की पूजा-अर्चना की। राजा जीमुतवाहन की कथा सुनी और पुत्रों के मंगलमय जीवन की कामना की।

वहीं नाट्यकला मंडली के सदस्य मिठू मार्शल, गुड्डू कुमार व हरीश कुमार द्वारा पंचायत चुनाव को लेकर मतदान के लिए लोगों को जागरूक किया गया तथा नुक्कड़ हास्य-व्यंग्य नाटक का आयोजन किया गया।

कलाकारों ने दी एक से बढ़कर एक प्रस्तुति
मंगलवार की रात शहर के विभिन्न स्थानों पर कई नकल अभिनय प्रतियोगिता कराने वाले मंचों का उद्घाटन किया गया। कसेरा टोली चौक पर कांस्यकार पंचायत समिति द्वारा आयोजित नकल अभिनय प्रतियोगिता का उद्घाटन किया गया। अतिथियों ने संयुक्त रूप से दीप जलकर मंच का उद्घटन किया।

ओबरा विधानसभा क्षेत्र से लोजपा प्रत्याशी रह चुके डॉ प्रकाश चंद्रा ने कहा कि जिउतिया पर्व माताएं अपने पुत्र की लंबी उम्र के लिए करती हैं। संतान को भी चाहिए कि वे कभी भी अपने माता-पिता का दिल नहीं दुखाएं। इस मौके पर नगर पर्षद की मुख्य पार्षद मीनू सिंह, सशक्त स्थाई समिति के सदस्य कौशलेंद्र कुमार सिंह, बसंत मालाकार, डेहरी कसेरा समाज के अध्यक्ष एवं भाजपा नेता मुन्ना लाल कसेरा, डॉ. केशव प्रसाद, नंद किशोर चौधरी, रेड क्रॉस औरंगाबाद के सचिव दीपक कुमार, संस्कार विद्या के सीईओ आनंद प्रकाश, एसपी सुमन उपस्थित रहे। इधर इमली तल पटवा टोली में मंच का उद्घाटन बच्चे से कराया।

नकल अभिनय प्रतियोगिता के मंच को उद्घाटन के बाद संबोधन करते डॉ. प्रकाश।
नकल अभिनय प्रतियोगिता के मंच को उद्घाटन के बाद संबोधन करते डॉ. प्रकाश।
खबरें और भी हैं...