खराब रिजल्ट के खिलाफ विद्यार्थियों में आक्रोश:खराब रिजल्ट पर फूटा विद्यार्थियों का गुस्सा, सड़क जामकर प्रबंधन का किया विरोध

दाउदनगर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आक्रोशित विद्यार्थियों को समझाते थानाध्यक्ष शशि कुमार राणा। - Dainik Bhaskar
आक्रोशित विद्यार्थियों को समझाते थानाध्यक्ष शशि कुमार राणा।

सीबीएसई 10वीं के रिजल्ट के बाद दाउदनगर के विवेकानंद मिशन स्कूल के विद्यार्थियों का भी गुस्सा फूट पड़ा।अपेक्षा से कम नंबर आने से विद्यार्थी नाराज हो उठे। दाउदनगर अनुमंडल मुख्यालय के भखरूआं मोड़ पर सड़क जाम कर विद्यार्थियों ने अपने आक्रोश का इजहार किया और प्रबंधन पर मनमानी का आरोप लगाते हुए विरोध जताया।

सुमंत कुमार, सौरभ कुमार, अंकित कुमार, आशीष रंजन ,छोटू कुमार, प्रिंस कुमार ,प्रियांशु कुमार समेत कुमार समेत अन्य विद्यार्थियों ने सड़क जाम कर नाराजगी का इजहार करते हुए कहा कि स्कूल द्वारा पूरे वर्ष का शुल्क लिया गया था।इन विद्यार्थियों का आरोप था कि स्कूल प्रबंधन के संबंधियों एवं हॉस्टल के विद्यार्थियों को अच्छे अंक आये हैं ,जबकि उन लोगों को सही अंक नहीं दिया गया है।

विद्यार्थियों का कहना है कि कोरोना काल में साल भर पढ़ाई नहीं हुई।थानाध्यक्ष शशि कुमार राणा ने काफी मशक्कत के बाद समझा-बुझाकर विद्यार्थियों को शांत कराया और तब जाकर सड़क जाम समाप्त हुआ। विद्यार्थियों द्वारा अपनी मांगों से संबंधित एक आवेदन भी थाना तथा अन्य पदाधिकारियों को दिया गया है।

इधर विवेकानंद मिशन स्कूल के निदेशक डॉ. शंभू शरण सिंह ने विद्यार्थियों के आरोप को पूरी तरह गलत बताते हुए कहा कि इस बार सीबीएसई दसवीं की परीक्षा में विद्यालय का परीक्षा परिणाम शत -प्रतिशत रहा है और सभी विद्यार्थी सफल हुए हैं। सीबीएसई द्वारा जारी फार्मूला के अनुसार विद्यार्थियों को पिछले परफॉर्मेंस के आधार पर अंक प्रदान किया गया है।

खबरें और भी हैं...