पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सब्जियों की आवक में कमी:सब्जी और फलों के दाम में हो रही बेतहाशा मूल्यवृद्धि से आमजन हो रहे परेशान

दावथ12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कीमतों में भारी बढ़ोतरी से सब्जिया व फल आम जनों से दूर होती जा रही हैं,टमाटर की बढ़ी कीमत जहां लोगों को रुला रही है। वहीं आलू, प्याज सहित अन्य सब्जियों की बढ़े दाम से उनका बजट बिगड़ रहा है। पूर्व में तेज धूप अब बारिश के कारण बाजार में सब्जियों की आवक में कमी आई है। इस कारण सब्जियों की कीमत में भारी बढ़ोतरी हुई है।

वहीं मंडियों से मोहल्ले तक पहुंचते ही सब्जियों के मूल्य में चार गुणा तक वृद्धि देखने को मिल रही है। 18 जून तक थोक में टमाटर सात से दस रुपये तक प्रति किलोग्राम मिल रहा था। वह 40 से 60 रुपये प्रति किलो पहुंच गया है। यह तो एक उदाहरण भर है। मंडी से खुदरा बाजार पहुंचने तक कीमतें हो जाती हैं चार गुनी सब्जियों की कीमत बढ़ने के पीछे मुनाफाखोरी का खेल भी हैं। मंडी में आने से खुदरा बाजार तक पहुंचते-पहुंचते सब्जियों की कीमत चार गुना तक हो जाता है। मंडी में किसान अपने उत्पादों को नीलामी के माध्यम से आढ़तियों को बेच देते हैं।

खबरें और भी हैं...