सफाई कार्य शुरू:नाराज सफाईकर्मियों ने नप कार्यालय का किया घेराव, जमकर हंगामा

डेहरी सदरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नगर परिषद के कर्मचारी मजदूर संघ के बैनर तले सफाई कर्मियों ने नगर परिषद कार्यालय का शुक्रवार को घेराव किया और कार्यपालक अधिकारी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। यूनियन के नेता अशोक सिंह के नेतृत्व में सफाई कर्मियों ने कोविड-19 काल के दौरान विशेष कार्य करने के गिफ्ट का पैसा भुगतान नहीं करने के विरोध में आंदोलनरत हैं। मौके पर कर्मियों को संबोधित करते हुए यूनियन नेता ने कार्यपालक पदाधिकारी पर सफाई कर्मी विरोधी होने का आरोप लगाया और कहा कि नगरपरिषद के करीब 7 करोड़ की वाहनों की खरीद में अनियमितता बरती गई है।

बकाया भुगतान नहीं किया जाता तब तक हड़ताल जारी रहेगी : एक्टू जिला सचिव और यूनियन नेता ने बताया कि जब तक अधिकारी द्वारा बकाया भुगतान नहीं किया जाता तब तक पेन डाउन जारी रहेगी। बताया कि विशेष पदाधिकारी द्वारा स्थाई एवं पदाधिकारी को दशहरा पर्व के पहले ही गिफ्ट दे दी गई है लेकिन आउटसोर्सिंग के मजदूरों को अभी तक नहीं दिया गया है। बताया कि बातचीत के दौरान अधिकारी ने दीपावली तक देने की बात कही थी और अब वह इससे भी मुकर रहे हैं। बताया कि नगर विकास एवं आवास विभाग के अवर सचिव ने 13 सितंबर 2021 को भेजे पत्र में स्थाई, संविदा और दैनिक कर्मियों की भूमिका को देखते हुए कर्मियों के मनोबल को बनाए रखने के लिए 15 दिनों के मूल वेतन अथवा मानदेय के समतुल्य प्रोत्साहन राशि देने का निर्देश दिया था।

अाज रात से शुरू हाे जाएगा सफाई कार्य

कहा कि इस राशि को सशक्त स्थाई समिति और बोर्ड से अनुमोदन प्राप्त करते हुए भुगतान होना था जिस पर जन प्रतिनिधियों की आपत्ति अभी तक सामने नहीं आई है लेकिन अधिकारी के स्तर से मनमानी जारी है। मजदूरों ने जान की परवाह किए बगैर काम किया है। मानदेय और आउटसोर्सिंग के करीब तीन सौ मजदूर हैं। मजदूरों के घर में दिपावली नहीं मनाई गई है। इधर नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी कुमार ऋत्विक ने बताया कि मजदूरों की ओर से धरना प्रदर्शन करने से पहले किसी तरह की सूचना नहीं दी गई थी। हालांकि उन्होंने यह बताया कि उनके समस्या का निदान कर दिया गया है और सफाई कार्य आज रात से ही शुरू हो जाएगी। इस आंदोलन के मौके पर रजनी देवी, रेखा देवी,राज कुमार, अशोक राम, मनोज कुमार सहित अन्य शामिल थे।

खबरें और भी हैं...