बेलगाम रफ्तार / डेहरी में शादी समारोह से लौट रहे बाइक सवार युवक को बालू लोड करने जा रहे ट्रक ने मारी टक्कर, मौत

Truck rider colliding with a bike carrying a youth who was returning from a wedding ceremony in Dehri, died
X
Truck rider colliding with a bike carrying a youth who was returning from a wedding ceremony in Dehri, died

  • जानलेवा बन चुकी है बालू की ढुलाई में लगे वाहनों की रफ्तार, डेहरी में हो चुके हैं कई हादसे
  • शव लेकर नगर थाने पहुंचे परिजन, मुआवजे व कार्रवाई के लिए हंगामा

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

डेहरी. शहर के व्यस्ततम मार्ग पाली रोड में बीती रात बालू लोड करने जा रहे ट्रक के धक्के से जख्मी युवक की इलाज के दौरान मंगलवार को मौत हो गयी। मृतक 18 वर्षीय विश्वकर्मा चौधरी निरंजन बिगहा निवासी अशर्फी चौधरी का पुत्र था। इस घटना में उसके बाइक को जहां नुकसान पहुंची है वहीं साथ में बैठे मुन्ना कुमार नामक युवक बाल-बाल बच गया और उसे मामूली चोट आई है।

घटना के बाद स्थानीय लोगों ने जख्मी हालत में विश्वकर्मा चौधरी को स्थानीय क्लीनिक में भर्ती कराया जहां हालत बिगड़ता देख चिकित्सकों ने नारायण मेडिकल कॉलेज अस्पताल में रेफर कर दिया जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गयी। इस घटना में युवक की मौत के बाद परिजनों ने मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद शव पहुंचने पर नगर थाना लाकर जमकर हंगामा किया और समुचित मुआवजे की मांग की। अधिकारियों ने भरोसा दिलाया जिसके बाद परिजन शव अपने साथ दाह संस्कार को ले गए। 
ट्रक को जब्त कर पुलिस ने दर्ज की एफआईआर, ड्राइवर की हो रही तलाश
मृतक के परिजनाें काे मुआवजा की मांग नगर थानाध्यक्ष सुबोध कुमार ने बताया कि मृतक किसी शादी समारोह में भाग लेकर अपने गांव वापस जा रहा था। इसी दौरान ट्रक संख्या यूपी 65 जीटी 4856 से धक्का लगा और वह उसकी चपेट में आ गया। बताया कि ट्रक को जब्त कर प्राथमिकी दर्ज करते हुए कानूनी कार्रवाई की जा रही है। ट्रक का ड्राइवर मौका देखते ही वहां से फरार हो गया है। ज्ञात हो कि अभी हाल के दिनों में बालू लदे ट्रक और ट्रैक्टर से शहरी क्षेत्र में कुचलकर कई लोगों की मौत हो चुकी है। बालू लदे ट्रक और ट्रैक्टर मौत बांट रहे हैं।

बेखौफ: पुलिस की मौजूदगी का भी नहीं रहता है इन्हें डर

अवैध बालू घाटों से होने वाले खनन से निकले बालू की ढुलाई में लगे वाहनों के चालकों को पुलिस का भी खौफ नहीं होता। ट्रकों की रफ्तार रात में अस्सी से ज्यादा होती है। ज्यादातर वाहन रात में ही निकलते हैं, जिससे पकड़े जाने का भय नहीं रहे। बालू ढोने वाले ट्रैक्टरों की रफ्तार भी कम नहीं होती। इन वाहनों को पार कराने में इंट्री माफिया की भी संलिप्तता रहती है।

पूर्व विधायक ने कहा- पुलिस नहीं करती गाड़ियों की जांच
पूर्व विधायक प्रदीप जोशी ने बिहार सरकार पर हमला करते हुए कहा कि नीतीश सरकार पुलिस को सरकार पंगू बना चुकी है और वह बालू लदे गाड़ियों की जांच नहीं कर सकते। जिला प्रशासन से मांग किया है कि सरकार द्वारा मृतक के परिजनों को समुचित मुआवजा दिया जाए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना