प्रमोद सिंह हत्याकांड:पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गोली की पुष्टि नहीं, सड़क दुर्घटना में मौत की आशंका

डुमरांवएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 31 अक्टूबर की देर शाम हुई थी दुल्हपुर के प्रमोद की मौत, 3 लोगों पर कराय नामजद एफआईआर

सिमरी थाना क्षेत्र के दुल्हपुर गांव निवासी प्रमोद सिंह उर्फ किरण सिंह हत्याकांड का राज उलझते जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गोली लगने की पुष्टि नहीं हुई है। जिससे पुलिस अब इस बात को भी मानने लगी है कि कही यह दुर्घटना तो नहीं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के किरण की मौत की गुत्थी सुलझा रहे एसडीपीओ राज इसे दुर्घटना से भी जोड़कर देख रहे हैं।

उन्होंने बताया कि अब तक जो साक्ष्य मिले हैं उसे से यह हत्याकांड से अधिक बाइक दुर्घटना प्रतीत हो रही है। बहरहाल पुलिस अभी भी इसे हत्या मानने से पूरी तरह से इंकार नहीं कर रही है तथा सभी बिंदुओं पर गहराई से जांच कर रही है। बता दें कि 31 अक्टूबर की देर शाम दुल्हपुर गांव में ही किरण बाइक से गिर अचेत हो गया था।

परिजन तथा ग्रामीण उसे लेकर सदर अस्पताल पहुंचे जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था। अगले दिन मृतक के भाई कृष्णा सिंह ने बलिहार के तीन लोगों को इस हत्याकांड में नामजद करते हुए एफआईआर दर्ज कराया था।

लेकिन पुलिस ने जब जांच शुरू की उसे ऐसा कोई साक्ष्य नहीं मिले और ना ही कोई गवाह मिला जो यह बता सके उसे गोली मारी गई है तथा हमलावर कौन थे और किस दिशा में भागे। इधर पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी गोली लगने की पुष्टि नहीं होने से परिजनों का आरोप संदेहास्पद होते जा रहा है।

कहते है एसडीपीओ
एसडीपीओ राज ने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गोली लगने की पुष्टि नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि अब तक जो साक्ष्य मिले हैं उससे किरण की मौत एक दुर्घटना प्रतीत हो रही है। उन्होंने कहा कि अभी इस मामले की जांच की जा रही है।

खबरें और भी हैं...