पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अतिक्रमणकारियों की अब खैर नहीं:नवि एवं आवास विभाव ने बिहार नगर पालिका संशोधन विधेयक 2021 में रखा है प्रावधान

डुमरांव23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नगर निकाय क्षेत्र में अतिक्रमण करने वालों की अब खैर नहीं है। राज्य सरकार ने इसे गंभीरता से लिया है। स्थायी और अस्थायी अतिक्रमण रोकने के लिए अधिक जुर्माना का प्रावधान किया गया है। अब नगर निकाय क्षेत्र में स्थायी अतिक्रमण की स्थिति में 20 हजार रुपये और अस्थायी अतिक्रमण की स्थिति में 5000 रुपये जुर्माना वसूला जाएगा। अभी स्थायी और अस्थायी अतिक्रमण पर महज एक हजार रुपये जुर्माना का प्रावधान है। जिसे नगर विकास एवं आवास मंत्री तारकेश्वर प्रसाद ने बिहार नगरपालिका संशोधन विधेयक 2021 पर पक्ष रखा है। जो पूर्ण बहुमत से पास कर दिया गया है ।

नगर निकाय क्षेत्रों में अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाने में अभी जिला प्रशासन पर आश्रित रहना पड़ता है। इस कारण से अभियान चलाने में काफी कठिनाई होती है। हालांकि नगर क्षेत्र में अतिक्रमण करने वालों पर कम आर्थिक दंड के कारण भी लोग इसे गंभीरता से नहीं लेते हैं। लेकिन नए कानून से सड़क व नालों पर अतिक्रमण कर निर्माण करने वालों पर अब शिकंजा कसा जाएगा। कच्चे व पक्के निर्माण को केवल हटाने की

कार्रवाई नहीं होगी, बल्कि ऐसे अतिक्रमणकारियों को नए कानून से जुर्माना के दायरे में लाया जा सकेगा। हालांकि महीनों पूर्व डुमरांव नप में अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाया गया था और फिर उसी जगह पर दोबारा अतिक्रमण का मामला कई दफा आ चुका है। नियमित अतिक्रमणकारी कम जुर्माना के प्रावधान का लाभ उठाते हैं।

खबरें और भी हैं...