इस मंदिर की हैं अलग परंपराएं:राज राजेश्वरी त्रिपुर सुंदरी मंदिर में नवरात्रा में न ही कलश स्थापना, न सप्तशती पाठ

डुमरांव16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नवरात्र में देवी मंदिरों में कलश स्थापित कर शक्ति की देवी की पूजा की जाती है। सभी मंदिरों में नवरात्र के पहले दिन कलश स्थापित कर ही पूजा शुरू की जाती है। लेकिन लहुरी काशी के रूप में विख्यात डुमरांव में एक ऐसा मंदिर भी है जहां नवरात्र में न तो कलश स्थापित होता है और न ही सप्तशती का पाठ। बल्कि साधक यहां अपनी साधना पूरी करने आते है। मंदिर का प्रताप ऐसा कि साधकों की हर मनोकामना पूरी होती है।

हम बात कर रहे है नगर के लालाटोली रोड स्थित महामाया महाविद्या दक्षिणेश्वरी राज राजेश्वरी त्रिपुर सुंदरी मंदिर का। बिहार के पहले व शाहाबाद के इकलौते इस तांत्रिक मंदिर में दूर दूर से साधक अपनी साधना पूरी करने आते है। मान्यता है कि यहां साधकों की हर सिद्धि पूरी होती है।

नवरात्र में यहां बगलामुखी का पाठ के साथ ही मंत्रों का जाप किया जाता है तथा प्रसाद में सिर्फ सूखा मेवा चढ़ाया जाता है। मंदिर के पुजारी किरण मिश्र ने बताया कि इस मंदिर की स्थापना उनके पूर्वज स्व. भवानी मिश्र ने करीब तीन सौ साल पहले किया था। बाद में यहां स्थापित मां के चरणों के नीचे से मिट्टी ले जाकर गया व मुजफ्फरपुर में त्रिपुरसुंदरी मंदिर की स्थापना की गई।

मंदिर में स्थापित है दस महाविद्या व पंच भैरव की मूर्तियां

इस मंदिर में प्रधान देवी राज राजेश्वरी त्रिपुर सुंदरी के साथ ही महाकाली, तारा, षोडसी, भुवनेश्वरी, छिन्नमस्ता, त्रिपुर भैरवी, धुमावती, बगलामुखी, मातंगिनी व कमला ये दस महाविद्याएं तथा पंच भैरव-दत्तात्रेय भैरव, बटुक भैरव, अन्नपूर्णा भैरव, काल भैरव व मातंगी भैरव की मूर्तियां स्थापित है। कहा जाता है कि यह पहला ऐसा मंदिर है जहां एक साथ दस महाविद्या व पंच भैरव स्थापित है। बनारस में भी पंच भैरव का मंदिर नहीं है। यही कारण है कि यह मंदिर साधकों को अपनी ओर आकर्षित करता है।

निःस्तब्ध निशा में मूर्तियों से आती है आवाज

मान्यता है कि इस मंदिर में स्थापित मूर्तियां तुरीय संध्या ( मध्य रात्रि ) में आपस में बातें करती है। मानों मूर्तियां आपस में बात कर रही है। मध्य रात्रि में मंदिर के पास से गुजर रहे लोग अचानक मंदिर के अंदर से आवाज सुन एक पल के लिए ठिठक जाते है और फिर तेज कदमों से आगे निकल जाते है। मंदिर के पुजारी किरण मिश्र ने भी इस बात की पुष्टि की है।

खबरें और भी हैं...