पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

यात्रीगण कृपया ध्यान दें:बुक टिकट में जर्नी डेट ही नहीं, यात्रा का स्थान भी बदल सकते हैं यात्री

डुमरांव22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक बार बदली जा सकती है यात्रा की तिथि, अतिरिक्त राशि नहीं खर्च करनी पड़ेगी, फिलहाल यह सुविधा यात्रियों को लंबी दूरी तय करने वाली ट्रेनों में मिलेगी

कई बार ऐसा होता है कि यात्री ट्रेन का रिजर्वेशन करवा लेते हैं, लेकिन कभी-कभी प्लान बदल जाता है। ऐसे में टिकट कैंसिल कर देते हैं और आपका पैसा भी कट जाता है। लेकिन रेलवे के नियमों के मुताबिक अब आपके पास दूसरा विकल्प भी आ गया है। बता दें, ऐसी स्थिति में ट्रेन यात्रा को ‘प्रीपोन’ या ‘पोस्टपोन’ भी कर सकते हैं। आप चाहें तो अपनी यात्रा का बोर्डिंग स्टेशन भी बदल सकते हैं।

यात्री मूल बोर्डिंग स्टेशन के स्टेशन प्रबंधक को लिखित में आवेदन करके या ट्रेन के प्रस्थान से कम से कम 24 घंटे पहले कम्प्यूटरीकृत आरक्षण केंद्र पर जाकर यात्रा के बोर्डिंग स्टेशन को बदल सकते हैं। यह सुविधा ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों टिकटों पर उपलब्ध है।

वही अगर आप अपनी यात्रा को आगे बढ़ाना चाहते हैं, यानी आप उस स्टेशन से आगे जाना चाहते हैं जहां टिकट बुक किया गया है, तो इसके लिए यात्री को गंतव्य पर पहुंचने से पहले या बुक की गई यात्रा पूरी होने के बाद टिकट चेकिंग स्टाफ से संपर्क करना होगा और उन्हें यात्रा विवरण के बारे में जानकारी देनी होगी।

एक बार बदली जा सकती है यात्रा की तिथि
भारतीय रेलवे की वेबसाइट के अनुसार, स्टेशन काउंटर पर बुक किए गए टिकट को यात्रा की तारीख में केवल एक बार ‘प्रीपोन्ड’ या ‘पोस्टपोन्ड’ किया जा सकता है। सीटों की उपलब्धता पक्की है या आरएसी या वेटिंग। यात्रा की तिथि बढ़ाने या आगे बढ़ाने के लिए यात्री को आरक्षण कार्यालय में जाकर ट्रेन के प्रस्थान के 48 घंटे पहले अपना टिकट सरेंडर करना होगा । याद रहे कि यह सुविधा सिर्फ ऑफलाइन टिकट के लिए ही उपलब्ध है, ऑनलाइन बुक किए गए टिकटों पर यह सुविधा नहीं मिलेगी।

इस प्रकार बदल सकते है तारीख को
भारतीय रेलवे यात्रियों को यह सुविधा प्रदान करता है कि वे अपने कन्फर्म/आरएसी/वेटिंग टिकट में यात्रा की तारीख बदल सकते हैं। भारतीय रेलवे के अनुसार, इन टिकटों पर यात्रा की तिथि निर्धारित शुल्क के भुगतान पर उसी श्रेणी/उच्च श्रेणी या एक ही गंतव्य के लिए ‘प्रीपोन’ या ‘स्थगित’ हो सकती है।

इसके अलावा, रेलवे यात्रियों को अपनी यात्रा का विस्तार करने, अपनी यात्रा के बोर्डिंग स्टेशन को बदलने और अपने टिकटों को उच्च श्रेणी में अपग्रेड करने की भी अनुमति देता है। जबकि इनमें से कुछ सुविधाएं केवल ऑफलाइन टिकट के लिए लागू हैं, अन्य ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों टिकटों के लिए उपलब्ध हैं।

खबरें और भी हैं...