पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शराब तस्करों का दुस्साहस:गायघाट में पुलिस पर हमला, एएसआई समेत तीन जवान घायल, आठ गिरफ्तार

डुमरांव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • घटना में 27 पर एफआईआर दर्ज, होमगार्ड के जवान को बनाया था बंधक

ब्रह्मपुर क्षेत्र के गायघाट गांव में शराब की सूचना पर छापेमारी करने गई पुलिस बल पर हमला किया गया। ईंट-पत्थर भी जमकर चलाए गए। जिसमें एक एएसआई घायल हो गये। वहीं एक होमगार्ड के जवान को लगभग तीन घंटे बंधक बनाकर उसके साथ मारपीट की गई।

जिसकी सूचना मिलने पर डुमरांव एसडीपीओ केके सिंह मौके पर पहुंचे साथ में कई थानों की पुलिस गई तो उक्त होमगार्ड के जवान को सुरक्षित निकाल इलाज के लिए भेजा गया। जबकि आठ लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया। वहीं 27 नामजद पर एफआईआर की गई। चक्की ओपी प्रभारी जुनैद आलम को सूचना मिली थी कि गंगा नदी के रास्ते जवहीं गांव की तरफ से शराब का खेप आ रही है।

जिसका नेतृत्व शराब माफिया गायघाट निवासी ललन कुवंर व उनके बेटे मुन्ना कर रहे हैं। सूचना पर पुलिस टीम लगा दी गयी। गंगातट पर जैसे ही खेप उतरा। उक्त तस्करों का पीछा एएसआई मिथिलेश पासवान के साथ चक्की ओपी के पुलिसकर्मी करने लगे। तस्कर जैसे ही गायघाट मार्ग पर चढ़े तस्करों को पुलिस ने घेर लिया।

शराब की पेटी तो पकड़ी गई। परन्तु तस्कर बाप-बेटे भागकर गांव के 25-30 लोगों को लेकर पुलिस पर हमला बोल दिए। पुलिसकर्मी जान बचाकर भागने लगे। इसी में एएसआई मिथलेश, सिपाही मनोज व होमगार्ड श्रीभगवान जख्मी हो गए। नुआंव निवासी बरमेश्वर सिंह के शराब तस्कर बेटे रमेश सिंह को शराब के साथ दबोच लिया।

30 पर एफआईआर, आठ गिरफ्तार: एसडीपीओ

डुमरांव एसडीपीओ केके सिंह ने बताया कि छापेमारी के दौरान गायघाट से संतोष कुमार उर्फ बगोधर कुंवर, छोटू कुमार उर्फ प्रिंस कुमार, प्रभुनाथ राय, रवि कुमार, राघवेंद्र कुमार, संजीव कुमार,विशाल कुमार और चंदन कुमार को गिरफ्तार किया गया। इस मामले में पुलिस ने गायघाट के तस्कर ललन कुंवर,मुन्ना कुंवर रमेश चौधरी पर केस किया है।

सफेदपोशों के फोन से परेशान रही पुलिस

शनिवार की रात पुलिस पर शराब तस्करों द्वारा हमला किया गया। जिसमें तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए। रात 9 बजे पुलिसियां कार्रवाई शुरू हुई। जख्मी जवान श्रीभगवान सिंह के पहचान पर पुलिस ने आठ लोगों को गिरफ्तार किया। उसके बाद कई सफेदपोश नेताओं के फोन आने लगे।

पुलिस कार्रवाई को लेकर भड़के ग्रामीण बोले; निर्दोषों को फंसा रही है पुलिस

मंगलवार की सुबह गायघाट के ग्रामीणों ने पुलिसिया कार्रवाई के खिलाफ बैठक की। जिसमें ग्रामीणों ने कुछ लोगों के द्वारा पुलिस पर किए गए हमले की निंदा की। इसके बाद ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस ने निर्दोष लोगों को जेल भेजा है। जिन 27 लोगों का एफआईआर में नाम दिया गया है।

उ​​​​​​​समें अधिकांशतः लोगों का इस मामले से कोई लेना देना है। पुलिस के इस कार्रवाई के बाद गांव के पुरूष इतना भयक्रांत है कि गांव छोड़कर भाग गए है। निर्दोष ग्रामीणों को इसंाफ दिलाने के लिए मुख्यमंत्री से लेकर मनावाधिकार आयोग तक गांव लोग जाएगें। बैठक में सुरेश कुवंर, कमलबास कुवंर, बलीराम कुवंर, भरत चौधरी, काशी नाथ पाण्डेय, ललन राय सहित लगभग 30 से अधिक ग्रामीण बैठक में मौजूद थे।

तस्करों के मंसूबे नहीं होंगे कामयाब

तस्करों द्वारा पुलिस पर हमलाकर यह समझ रहे कि वो अपने मंसूबेे में कामयाब भी हो जाएंगे।ॉ, लेकिन ऐसा नहीं है। पुलिस भी शराब तस्करी को रोकने लिए मूड बना ली है। मलावरों को जैसे को तैसा वाली नीति से जवाब दिया जाएगा।

-नीरज कुमार सिंह, एसपी, बक्सर।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

    और पढ़ें