पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निर्देश जारी:थानों में हर शनिवार को भूमि विवाद का हो निपटारा : डीएम

डुमरांवएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अंचलाधिकारी और थानाध्यक्ष दोनों पक्षों के लोगों को बुलाकर कराएंगे समस्या का समाधान

अब हर शनिवार को थाना में भूमि विवाद के निपटारा किया जाएगा। इसको लेकर अंचलाधिकारी एवं थानाध्यक्ष दोनों पक्षों के साथ बैठकर कर मामले को खत्म कराएंगे। इसको लेकर बक्सर जिलाधिकारी अमन समीर ने शुक्रवार को जिला के सभी थानाध्यक्ष और सीओ के साथ वीडियो कॉफ्रेंसिग के माध्यम से जिला राजस्व समन्वय समिति की बैठक में यह निर्देश दिया। इसको लेकर सभी अंचलाधिकारी को कहा गया कि वे प्रत्येक शनिवार को नियमित रूप से अपने क्षेत्र के थानों में से किसी एक थाने पर थाना प्रभारी और संबंधित पक्षकारों के साथ बैठकर भूमि-विवाद का निपटारा करना सुनिश्चित करें।

डीएम ने कहा कि भूमि-विवाद संबंधी मामलों का निपटारा स्थानीय स्तर पर ही हो जाने से ये यह मामला गंभीर नहींं बनता है। इसलिए इस कार्य को सीओ प्राथमिकता से लें। वर्चुल बैठक में सीओ सुनील कुमार वर्मा ,कोरानसराय थानाध्यक्ष राजन मालवीय ,राजीव रंजन राय,संतोष कुमार ,बिंदेश्वरी राम,मनोरंजन प्रसाद राय सहित अन्य अधिकारी और थानेदार उपस्थित थे।

दाखिल-खारिज लंबित रखने वाले अंचलाधिकारी पर होगी अर्थदंड
अंचलों में दाखिल-खारिज के लंबित मामलों को लेकर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि मामलों के निष्पादन के लिए निर्धारित अवधि समाप्त हो जाने के पश्चात वाले लंवित मामलों के विरूद्ध संबंधित अंचलाधिकारी पर नियमानुसार अर्थदण्ड अधिरोपित करने का निर्देश दिया गया। डीएम ने कहा कि लगाई गई जुर्मान की राशि अंचलाधिकारी से वसूल करते हुए उसे कोषागार के माध्यम से जमा कराया जाय और जब तक यह राशि जमा नहींं हो जाय तब तक संबंधित अंचलाधिकारी का वेतन रोक दिया जाए।

इसलिए दाखिल खारिज मामले में त्वरित निष्पादन होने चाहिए। भू-लगान वूसली की सभीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि वैसे अंचल जहाँ इसकी उपलब्धि 10 फीसदी से भी कम है, इसमे सुधार करें। उन्होंने कहा कि भू-लगान किसी भी साईबर कैफे से ऑनलाइन जमा करायी जा सकती है। बैठक में उपस्थित अपर समाहत्र्ता के द्वारा बताया गया कि सभी सैरातों की बंदोवस्ती हो चुकी है।

नीलामपत्र के लंबित मामले शीघ्र निष्पादन करें : वही डीएम समीर ने कहा कि निलामपत्र वाद के लम्बित सभी मामलों के शिघ्र निष्पादन का निर्देश देते हुए कहा कि अंचलाधिकारी नोटिस जारी करें, उसका तामिला करायें और सप्ताह में कम से कम दो दिन कोर्ट लगाकर सुनवायी करें और जरूरी हो तो वारंट जारी करें एवं कुर्की भी करायें। ताकि निलामपत्र के लंबित मामलों का शीघ्र निष्पादन किया जा सके।

खबरें और भी हैं...