पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान को राहत:जंगली जानवरों को खेतों से रखेगा दूर रखेगा सोलर फेसिंग सिस्टम, किसान को राहत

डुमरांव12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीसी करंट के झटके से खेतों से दूर रहेंगे नीलगाय व अन्य जंगली जानवर, चौपट होने से बचेगी किसानों की फसल
  • हिंसक जानवरों की डरावनी आवाज निकाल भी खेतों से आवारा पशुओं को रखेगी दूर

अब किसानों के फसल को जंगली व आवारा पशु नुकसान नहीं पहुंचा सकेंगे। इसके लिए एक नई तकनीक को विकसित किया गया है। जो कृषि क्षेत्र में बड़ा वरदान साबित हो रहा है। इस तकनीक को सोलर पॉवर फेंसिंग कहा जाता है। इसके सहायता से किसानाें को जंगली जानवरों से राहत मिलेगी।

इस तकनीक की सहायता से खेत के चारो तरफ स्टील के तार की बाउंड्री बना कर उसमे डी सी करंट थोड़े थोड़े अंतराल में छोड़ा जाता है। जिसके झटके लगने से पशु खेत के पास नही भटकेंगे और मानसिक रूप से उनमें डर बैठ जाएगा। इस सिस्टम से एक तेज आवाज का हॉर्न भी लगा सकते है। जिससे किसान को पता चलता हैं। की खेत की बाड़ के कोई सम्पर्क में आया है।

इसको खेतों में लगाने के लिए एक सोलर प्लेट लगी होती है जो की 12 वाॅट की बैटरी को पावर देती है और उसे चार्ज करती है। और उस बैटरी से पावर फेज कंट्रोलर में जोड़ा जाता है। फिर कंट्रोलर के जरिये बाड़ या तार फेंसिंग में डी सी करंट छोड़ा जाता है। यह करंट रोक रोक कर एक एक सेकंड के अन्तराल में तारों में जाता है। जो भी जानवर इसके पास आता हे उसे इसका जबर्दस्त झटका लगता है।

जिससे वो डर के भाग जाता है और इन तारों को स्पर्श होते ही अलार्म बज जाता है जिस से किसान को भी सूचना मिल जाती है। इस करंट का झटका बहुत तेज होता है। लेकिन इससे किसी भी प्रकार का कोई भी नुकसान नही होता है। क्यों की ये डी सी वोल्टेज का होता है और रुक रुक के आता है। यह तकनीकी से किसी भी प्रकार की जनहानि की संभावना नही है। बल्कि यह मान्यता प्राप्त है।

किसान इसको खुद आसानी से लगा सकता है। इसका रख रखाव में कम खर्चा होता है और उपयोग ज्यादा समय तक किया जा सकता है। इस तकनीक में अलग-अलग जानवर के हिसाब से अलग अलग सिस्टम दिया गया है जिसे आप अपने हिसाब से सेट कर सकते है साथ ही पर्यावरण के हिसाब से भी उचित है यह जानवरों के मानसिक स्थिति को प्रभावित कर उसे नुकसान करने से रोकने में यह तकनीक सक्षम है।
दियारा क्षेत्र के लिए कारगर होगा यह तकनीक
दियरा इलाके के किसान जंगली जानवरों से ज्यादा परेशान और चिंतित रहते है द्य जानवरों से निजात के लिए किसान कई कोशिश कर लिए है, पैसे भी खर्च हो चुके है फिर भी जंगली जानवर खेतों का नुकसान कर ही देते है साथ ही खेतों की देखभाल के लिए पूरा समय खेतों में ही गुजारना पड़ता है, चाहे वो मौसम सर्दी, गर्मी, वर्षात का ही क्यों न हो। इस क्षेत्र के लिए सोलर पावर फेसिंग तकनीक कारगर और उपयोगी साबित होगा।
इस तरह से लगाया जाता है सोलर पावर फेसिंग
इस तकनीक में करेंट सामान रूप से प्रवाहित होना चाहिए एक सिरे से दूसरे सिरे तक एक जैसा हो बीच में जॉइंट न हो। तार से जमीन में अर्थ न मिलना चाहिए इसके लिए तार के पास खर पतवार या अन्य पाैधाें को दूर रखे। जमीन में अर्थ मिलने से बैटरी कम समय तक ही असर कर पाती है। बाड़ के लिए 12 से 16 गज के तार का प्रयोग बेहतर रहता है। किसान बाड़ की मरम्मत करते समय कंट्रोलर को बंद कर के करे। समय समय पर मरम्मत और बैट्री को देखते रहें। ताकि उच्च क्वालिटी के सिस्टम का उपयोग हो द्य बाड़ का निर्माण अलग अलग जानवरों के हिसाब से होता है इसके लिए इस तकनीक में सेटिंग दिया गया है।
जिले में सबसे ज्यादा आतंक नीलगाय का
जिले में फसलों को सबसे ज्यादा नीलगाय बर्बाद करती है। नीलगाय झुंड में चलती है, जिससे ज्यादा नुकसान होता है। आंकड़ों के अनुसार 30 प्रतिशत फसल नीलगाय, जंगली सुअर व अन्य आवारा पशुओं से प्रति वर्ष बर्बाद हो जाता है। जो किसानों के लिए सिरदर्द बना हुआ है।
सोलर पावर फेसिंग निकालेगी जानवरों की डरावनी आवाज
इस संबंध में डुमरांव कृषि विज्ञान महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ अजय सिंह ने बताया कि भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान ने इस उपकरण को डेवलप किया है। यह मशीन एक तरह से लाउड स्पीकर की तरह है। इस उपकरण से कुत्ता व अन्य जानवरों की आवाज निकालता है। जरूरत के अनुसार इसमें समय भी निर्धारित किया जा सकता है। रिकार्डेड आवाज सुनने के बाद जानवर वहां से भाग जाते हैं।

इस मशीन लगाने से पहले कंपनी के कर्मी खेतों पर जाकर इसका निरीक्षण करते हैं कि वहां किस जानवर का अधिक आतंक है। उसके बाद नीलगाय, जंगली सुअर या फिर अन्य जानवरों के लिए खतरनाक जानवरों की आवाज को उपकरण में इंस्टॉल कर देते है। इंस्टॉल के बाद समय समय पर जानवरों की आवाज सुनाई देने लगती है। जिसको सुनकर आतंक फैलाने वाले जानवर वहां से भाग जाते है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser