पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

समीक्षा :तीन थानाक्षेत्रों में लूट व हत्या के वारदातों में हुई पुलिस जांच की एसपी ने की समीक्षा

डुमरांव15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
Advertisement
Advertisement

अनुमंडल के विभिन्न थाना क्षेत्रों में पिछले कुछ दिनों पूर्व हत्या, लूट जैसे कई बड़े मामलों की पुलिस कप्तान उपेन्द्र नाथ वर्मा के द्वारा घटना स्थल पर पहुंच जांच की गई। जिसमें मुख्य तौर पर मई माह कृष्णाब्रह्म थाना क्षेत्र के रेहियां गांव में गोली मारकर लूट की बाइक कांड व ब्रह्मपुर थाना के ज्याेंही गांव के पास यूपी के युवक के शव मिलने का मामला रहा। रामदास राय के डेरा स्थानीय गांव में वृद्ध की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी। जिसे डुमरांव एसडीपीओ के नेतृत्व में त्वरित कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था।

उन मामलों का निरीक्षण करने पहुंचे और मामले की सही दिशा में अनुसंधान हो रहा है कि नही यह भी जांच किए। वहीं घटना स्थल पहुंच स्थानीय लोगों से बात की जांच की। एसपी उपेन्द्र ने कहा कि दो मामले अज्ञात हुए थे जिसमें एक हत्या व एक लूट का था। जिसका पुलिस ने बेहतरीन काम करते हुए उद्भेदन  कर अपराधियों को जेल भेजा है। वहीं रामदास राय वाला मामला नामजद था जिसमें भी पुलिस ने दो लोगों को जेल भेजा है। इस दाैरान डुमरांव एसडीपीओ केके सिंह उनके साथ माैजूद रहे। 
अज्ञात के खिलाफ दर्ज हुआ था मामला छह को पुलिस ने भेजा जेल
एसपी उपेन्द्र नाथ वर्मा कृष्णाब्रह्म थाना क्षेत्र के खरहाटांड़ डेरा गांव के पास पहुंचे जहां 16 मई की रात एक युवक को गोलीमार उसकी बाइक लूटने के मामले में पुलिस ने छह अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। उनके पास से लूटी गई बाइक व मोबाइल भी बरामद कर लिया है। गिरफ्तार अपराधियों में दो बक्सर के तथा दो रोहतास के रहने वाले है। इनपर लूटी गई बाइक को खपाने का आरोप है। पुलिस ने तकनीकी साधनों से इन्हें गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार अपराधियों में सिमरी थाना क्षेत्र के डुमरी गांव के गोल कुंवर उर्फ गोल्डू व दुबौली गांव के अनिल कुमार गोंड के साथ रोहतास जिले के बिक्रमगंज थाना क्षेत्र के धारूपुर गांव के कुमार शाश्वत उर्फ गणेश तिवारी व काराकाट के जयश्री गांव क रूद्र सिंह शामिल थे। जबकि पुलिस ने इसके पहले युवक को गोली मार बाइक लूटने वाले चक्की के मुकेश कुमार व राजा कुमार को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है।

दो गज जमीनी के लिए भतीजे ने 80 वर्षीय चाचा की जान ली
एसपी उपेन्द्र नाथ वर्मा दूसरा केस देखने पहुंचे रामदास राय डेरा जहां पिछले महीने जमीनी विवाद को लेकर एक वृद्ध की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। दो पक्षों के बीच चल रहे लम्बे समय से जमीनी विवाद खूनी संघर्ष का रूप ले लिया। जिसमें देवराज यादव व रामाशंकर यादव के बीच जमकर लाठी डंडे चले थे। उसी क्रम में वृद्ध देवराज यादव के सिर पर लाठी से प्रहार हुआ जिसमें वो गंभीर रूप से घायल हो गए।

जिन्हें ईलाज के लिए सदर अस्पताल बक्सर ले जाया गया। जहां से उन्हें पटना पीएमसीएच रेफर कर दिया गया। उन्हें ले जाने के क्रम में रास्ते में मौत हो गई। दो लोगों धनजी यादव व रामाशंकर यादव को पुलिस ने तुरंत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। एसपी ने अन्य अभियुक्तों को गिरफ्तारी करने के लिए  निर्देश दिए थे।

मंटू हत्याकांड थी चुनौती 48 घंटे में बक्सर पुलिस ने किया था खुलासा
तीसरा केस देखे पहुंचे ब्रह्मपुर थाना के ज्याेंही गांव जहां यूपी में बलिया जिला के हल्दी थाना के ज्याेंही गांव के रहने वाले मृतक मंटू यादव की हत्या 24 जून की रात सीने में गोलीमार कर दी गई थी। 25 जून को बिहार के ब्रह्मपुर थाना क्षेत्र में स्थित ज्याेंही गांव में बक्सर-कोईलवर तटबंध के किनारे उसका शव मिला था। पिता दरोगा यादव ने अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा पुलिस के लिए आरोपी तक पहुंचा मुश्किल कर दिए। जिसके बाद एसपी उपेन्द्र नाथ वर्मा डुमरांव एसडीपीओ केके सिंह के नेतृत्व में टीम बनाई।

उन्होंने इस घटना पर वर्क आउट शुरू किया तो ग्रामीण सूत्रों ने कई चाैकाने वाले खुलासे किए। जिसके बाद पुलिस ने मंटू के चचेरे भाई सुनील यादव पिता भृगुनाथ यादव को हिरासत में लिए। उसे ब्रह्मपुर थाना लाकर पूछताछ की गई तो पता आधा दर्जन लोगों के सामने आए। एसपी उपेन्द्र ने दैनिक भास्कर से बातचीत में कहा कि यह तीनों मामलों में सबसे गंभीर मामला था जो दो राज्यों को जोड़ता था। परन्तु बक्सर पुलिस 48 घंट में मामले का उद्भेदन कर दिया था।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज का दिन पारिवारिक और आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदायी है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति का अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ निश्चय से पूरा करने की क्षमत...

और पढ़ें

Advertisement