विशेष शिविर का आयोजन:मातृ वंदना योजना के तहत हो रहा विशेष शिविर का आयोजन

डुमरांव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लंबित भुगतान के निष्पादन के लिये 15 अगस्त तक शिविर

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना व मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना का लाभ अधिक से अधिक योग्य लाभुकों को उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सभी परियोजना कार्यालय में विशेष शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इसे लेकर आइसीडीएस निदेशक ने पत्र जारी कर सभी जिला कार्यक्रम पदाधिकारी को जरूरी आदेश दिये हैं।

पांच से 15 अगस्त के बीच आयोजित होने वाले इस विशेष शिविर में योग्य लाभुकों को पंजीकृत करने व योजना लाभ के लिए लाभुकों के लंबित आवेदनों के निष्पादन में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है। आइसीडीएस निदेशक ने कोराेना प्रोटाेकॉल का शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराते हुए सभी परियोजना कार्यालय में शिविर आयोजित करने का निर्देश दिया है।

योजना के संबंध में जानकारी देते हुए डुमरांव सीडीपीओ गीता पांडेय ने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत पहली बार मां बनने वाली गर्भवती व धात्री महिलाओं को सशर्त 5000 हजार रुपये की सहायता राशि तीन किस्तों में उपलब्ध कराने का प्रावधान है। इसमें अंतिम मासिक चक्र के 150 दिन के अंदर गर्भावस्था पंजीकरण कराने के बाद पहले किस्त के रूप में 1000 रूपये, गर्भावस्था के 06 माह पूरा होने पर कम से कम एक बार एएनसी जांच कराने के बाद दूसरे किस्त के रूप में 2000 रुपये व नवजात शिशु का जन्म पंजीकरण व टीकाकरण के उपरांत तीसरे व अंतिम किस्त के रूप में 2000 रुपये के भुगतान का प्रावधान है।

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के तहत लाभुकों को दो किस्त में 3000 रुपये सहायता राशि के रूप में उपलब्ध कराने का प्रावधान है। इसमें पहले संतान के रूप में बच्ची के जन्म पर 0 से एक साल की बच्ची को बतौर सहायता राशि पहले किस्त के रूप में 2000 रुपये व 01 साल से 02 साल के बीच आधार पंजीकरण के उपरांत दूसरे किस्त के रूप में 1000 रुपये देने का प्रावधान है।

खबरें और भी हैं...