पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खेती-किसानी:पीली क्रान्ति की बानगी: सात हजार हेक्टेयर भूमि पर हुई सरसों की खेती

डुमरांव7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मौसम के बार बार दगा देते रहने एवं मंहगाई के दौर में बेहतर मुनाफा होने से अब किसान नगदी फसल के लिए प्रेरित हो रहे हैं। खेतों में सरसों की लहलहाती फसल देख किसानों के बीच बेहतर उत्पादन की उम्मीद जगी है। सरसों तेल एवं पशु चारे की बढ़ती कीमतों की मार झेल रहे किसान खेतों में लहलहाते पौधे देख काफी खुश हैं।

उन्हें उम्मीद है कि माघी लंगड़ी तोड़ी क्वालिटी के सरसों के पौधे काफी फायदेमंद होंगे। कृषि विभाग के आकड़ों के मुताबिक हर साल अनुमंडल क्षेत्र में सरसों की खेती का रकबा बढ़ रहा है। विगत साल तकरीबन पांच हजार हेक्टेयर में किसानों ने सरसों की खेती की थी, इस साल सात हजार हेक्टेयर में सरसों के पौधे लहलहा रहे है।

हालांकि अन्य फसलों की तरह इसके लिए प्रखंड कार्यालय से किसानों के बीच सरसों का बीज उपलब्ध नहीं कराया गया है। फिर भी किसानों द्वारा अच्छी मात्रा में सरसों की खेती की गयी है। किसान मार्कंडेय यादव, देवानंद सिंह सहित अन्य दर्जनों गांवों के किसानों का कहना है कि सितम्बर अक्तूबर के पहले सप्ताह तक बुआई बेहतर होती है।

बहुतेरे किसान लंगड़ी तोड़ी सरसों की कटाई कर गेहूं, प्याज, गरमा फसल के बुआई भी करते है। किसानों का कहना है कि इस फसल से आम के आम गुठली के दाम मुनाफा साबित हो सकता है। किसानों ने बताया कि खेतों में सरसों की लहलहाती फसल पर लाही का प्रकोप और टिंडा नामक कीटाणु से खतरे की आशंका बनी रहती है।

कृषि विशेषज्ञों की सलाह के अनुसार बीएओ कृष्ण मोहन चौधरी, कृषि समन्वयक जंग बहादुर सिंह, कृषि सलाहकार दिलिप कुमार एवं कृषि वैज्ञानिक डा. एयाज अहमद ने बताया कि सरसों के फसल पर कीट लगने पर किसानों को सलाह दी कि दो किलो डाईएफएनएम 45, साथ में इंडोसल्फान दवा दो लीटर एक हजार पानी में घोलकर एक एकड़ में छिड़काव करने से फसल कीट मुक्त हो जायेगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser