निधन:शिक्षक हसनैन के आकस्मिक निधन से शिक्षक समाज में फैली शोक की लहर

डुमरांव6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

डुमरांव नगर के कन्या मध्य विद्यालय में पदस्थापित शिक्षक मोहम्मद हसनैन के आकस्मिक निधन से पूरे शिक्षक समाज में शोक की लहर फैल गई है। मोहम्मद हसनैन एक काफी होनहार और मेधावी शिक्षक माने जाते थे। उनकी नियुक्ति 2014 में टीईटी परीक्षा उत्तीर्ण करने के उपरांत कन्या मध्य विद्यालय डुमरांव में हुई थी। वह काफी कर्मठ समय निष्ट और ईमानदार शिक्षक गिने जाते थे। उनके जाने से शिक्षक समाज और छात्र-छात्राओं के बीच गहरा शोक व्याप्त है। सभी उनके अचानक चले जाने से सभी काफी व्यथित और दुखी हैं। विद्यालय के प्रधानाध्यापक कमलेश सिंह ने कहा कि वह विद्यालय की रीढ़ थे उनकी आकस्मिक चले जाने से पूरा विद्यालय परिवार काफी दुखित और आवक है। समाज में भी वह काफी मिलनसार और स्वाभिमानी एवं कर्मठ इंसान माने जाते थे। उनके कृत्य और कार्यों की चर्चा सारे लोग कर रहे हैं।समाज के प्रबुद्ध समाजसेवियों में चौगाईं के बद्री सिंह, कुमार विजय, बंटी शाही डुमरांव नगर के पूर्व वार्ड पार्षद धीरज कुमार इत्यादि ने सोशल मीडिया के माध्यम से उनके मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है और इसको एक अपूरणीय क्षति बताया है। शोक व्यक्त करने वाले शिक्षकों में संतोष कुमार , पवन मिश्रा, पशुपति नाथ सिंह सुड्डू, प्रदीप चौधरी, अर्चना सिंह, सुधांशु पांडेय, उमेश कुमार, जयकिशन केशरी, सुधा कुमारी, मेराज अंसारी, माधुरी, आरती कुमारी, गीतांजलि मिश्रा, माे. इकबाल, दीपक यादव, अख्तर, अलाउद्दीन, अजितपाल सिंह , ओमप्रकाश दुबे, अशोक सिंह, दीपक कुमार, राजन शरण, कुंवर रंजीत सिंह, उषा कुमारी, अनुराग मिश्रा, परवेज आलम अादि शामिल थे।

खबरें और भी हैं...