पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हादसा:पैदल जा रहे दंपती को टैंकर लोरी ने रौंदा, पति की मौत, पत्नी घायल

फुलवारीशरीफ17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दशरथा मोड़ के पास दो घंटे बाइपास जाम, पुलिस के साथ नोकझोंक

बेउर थाना क्षेत्र के दशरथा मोड़ सिपारा पुल के निकट बुधवार की रात अनियंत्रण टैंकर लोरी ने पैदल जा रहे दंपती को कुचल दिया। इसमें 40 वर्षीय पति की मौत हो गई जबकि 35 वर्षीय पत्नी मामूली घायल हुई है। पति कपड़े की दुकान में सेल्समेन का काम करता था। स्थानीय लोगों ने घायल पत्नी को इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया। घटना के बाद स्थानीय लोग उग्र हो गए। मुआवजा के लिए दो घंटे तक सड़क जाम करके टायर जला कर आगजनी किया और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। मौके पर पहुंची पुलिस के साथ लोगों ने तीखी नोकझोंक भी की।

दंपती फतुहा के रहने वाले

सुजीत कुमार अपनी पत्नी विनिता देवी के साथ पैदल ही दशरथा जा रहे थे। इसी दौरान एक तेज रफ्तार टैंकर लोरी ने दोनों को रौंद दिया। पति की मौके पर ही मौत हो गई। पत्नी को इलाज के लिए पीएमसीएच भेजा गया। उसकी हालत खतरे से बाहर है। घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया। दंपती किराये के मकान में रहते हैं। सुजीत के चार छोटे-छोटे बच्चे हैं। मृतक मूल रूप से फतुहा थाने के लग्जरी गांव का रहने वाला है।

चालक टैंकर लोरी को लेकर हुआ फरार
घटना के बाद स्थानीय लोग उग्र हो गए और दो घंटे तक सिपारा पुल के निकट जाम कर दिया और मुआवजा की मांग करने लगे। सड़क पर टायर जलाकर आगजनी की। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। उग्र हुए लोगों को समझा बुझा कर शांत किया। इसी दौरान पुलिस से तीखी नोक झोंक भी हुई। सीओ के प्रतिनिधि सीआई ने पारिवारिक योजना के तहत बीस हजार और दाह-संस्कार के लिए तीन हजार रुपए देकर रोड जाम हटवाया। तब जाकर यातायात बहाल हुआ। ट्रेनी डीसीपी सह थानेदार अमित कुमार ने बताया कि चालक टैंकर लोरी को लेकर फरार हो गया है। पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच भेज दिया है।

खबरें और भी हैं...