पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वापसी:बिहार बार्डर पर पहुंचे 6253 प्रवासी मजदूर, स्क्रीनिंग के बाद ट्रेन-बस भेजे गए गृह जिले

गोपालगंज4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भेजने के लिए चलाई गई 60 बसें और चार ट्रेनें, 500 से ज्यादा निकले खुद की सवारी से

लॉकडाउन के बाद महाराष्ट्र, गुजरात हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, यूपी में फंसे बिहारी मजदूरों के घर वापसी का सिलसिलस नहीं थम रहा है। कल तक ये मजदूर पैदल या साईकिल से अपने घरों को जाते रहे। गुरुवार से  जिला प्रशासन ने उदारता दिखाई और पैदल व साइकिल से घर जाने का सिलसिला बंद हो गया। अब इन्हें ट्रेन और बसों में बिठाकर भेजा जा रहा है।

बलथरी चेकपोस्ट पर शनिवार को पहुंचे 6253 मजदूर पहुंचे। 2200 लोगों को को 60 बसों द्वारा उनके गृह जिला भेजा गया। जबकि 4053 मजदूरों को चार स्पेशल ट्रेनों से उनके गृह जिले के लिए रवाना किया गया। बता दें कि विभिन्न महानगरों से जैसे-तैसे चल कर ये मजदूर बलथरी चेक पोस्ट पहुंचे थे, जहां प्रशासन द्वारा इन्हें रोक कर रखा गया था। शनिवार की सुबह से सभी की स्क्रीनिंग कर उनके गृह जिले को रवाना किया गया। इनमें सर्वाधिक सुपौल, शिवहर, मोतिहारी, अररिया, सहरसा, पूर्णिया और कटिहार के मजदूर हैं। 
श्रमिक स्पेशल ट्रेन से 4 हजार गए: डीटीओ प्रमोद कुमार ने बताया कि चार श्रमिक स्पेशल ट्रेन जलालपुर स्टेशन से खोली गई। इसमें सहरसा, कटिहार और खगड़िया के 4053 मजदूरों को रवाना किया गया। सभी को सोशल डिस्टेंस के तहत सीटें दी गई। 
बसें नही हुई फुल : प्रवासी मजदूरों के आने का सिलसिला अब कम होने लगा है। रोडवेज से उन्हें पहुंचाने के लिए 110 बसें रखी गई है। शनिवार को संख्या कम होने के कारण 60 बस से 2200 लोगों को भेजा गया।
ऑटो से पहुंचे 500 लोग : महाराष्ट्रा में ऑटो चलाने वालों का काफिला शनिवार को चेकपोस्ट पहुंचा। करीब 500 चालकों की स्क्रीनिंग करने के बाद उन्हें छोड़ा गया। सभी ऑटो चालक सीमांचल के हैं। यहां 6 दिनों पहुंचे हैं।  
मजदूरों का किया जा रहा हेल्थ चेकअप
मजदूरों की यूपी से इंट्री होने के बाद चेकपोस्ट पर उनका हेल्थ चेकअप किया जा रहा है। चेक पोस्ट पर खाना और पानी का प्रबंध है। रवानगी से पहले उन्हें फूड पैकेट और पानी भी रास्ते के लिए दिया गया। 
जांच व रजिस्ट्रेशन के लिए बनाए गए 16 काउंडर
शिप्ट में मेडिकल की टीम मौजूद है। वहां बताया गया कि जो भी लोग पहुंच रहे है उनकी स्क्रीनिंग की जा रही है। सभी को स्क्रीनिंग के बाद सभी को बसों से उनके जिलों में भेज दिया जा रहा है।  संदिग्ध लोगों रोक कर क्वारेंटाइन किया जा रहा है।
मीडिया पर प्रतिबंध लगाया जाना अनुचित
जिला पार्षद व राजद नेता सुरेंद्र राय ने बिहार सरकार द्वारा क्वारंटाइन सेंटरों में मीडिया के प्रवेश पर रोक लगाए जाने को अनुचित करार दिया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार अपनी कमजोरी छिपाने के लिए मीडिया को क्वारंटाइन सेंटर पर जाने से रोक लगा दी है। उन्होंने मामले में केंद्र सरकार से हस्तक्षेप कर मीडिया पर लगाए गए प्रतिबंध को वापस लेने की मांग की है।
श्रमिकों को दे रहे नाश्ते का पैकेट
विधान पार्षद आदित्य नारायण पांडेय के सहयोग से भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा दूसरे प्रदेशों से आने वाले श्रमिकों के बीच नाश्ते का वितरण किया जा रहा है। वितरण का कार्य लगातार सात दिनों से चल रहा है। 32 हजार लोगों के बीच जलपान का वितरण किया जा चुका है। नाश्ते में चूड़ा गुड़ और पानी की बोतल प्रत्येक श्रमिक को उपलब्ध कराई जा रही है। 

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें