पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खुशहाली की दुआ मांगी:कोरोना की तीसरी लहर की आहट के बीच लोगों ने घरों में रहकर मनाया कुर्बानी का पर्व बकरीद

गोपालगंज10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अपने घरों में ईद उल अजहा का नमाज अदा करते हुए । - Dainik Bhaskar
अपने घरों में ईद उल अजहा का नमाज अदा करते हुए ।
  • मस्जिद रहे लॉक, सुरक्षा को लेकर पुलिस रही गश्त पर, घरों पर ही लोगों ने बकरे की दी कुर्बानी
  • आपसी सौहार्द और सादगी के साथ मनाया गया बकरीद, कोरोना प्रोटोकॉल का किया गया पालन
  • प्रशासनिक स्तर पर सुरक्षा व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रही, दंडाधिकारी के साथ भारी संख्या में जवान थे तैनात

ईद-उल-अजहा का त्योहार बुधवार को पूरे जिले में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। ईद-उल-अजहा बकरीद पर सभी ने घरों पर ही नमाज अदा की। सुबह छह से सात बजे तक कुर्बानी की नमाज अदा की गई। वहीं दूसरी ओर कोविड-19 के मद्देनजर सभी जगहों पर पुलिस व दंडाधिकारी तैनात रहे। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रहा। सावधानी के साथ सभी लोग नमाज अदा करते देखे गए। इस दौरान बकरे की कुर्बानी दी गई। दावतों का दौर भी चला। राजद के प्रदेश महासचिव रेयाजुल हक राजू व प्रधान महासचिव इम्तेयाज़ अली भुट्टो के आवास पर भी दावतों का दौर चला इस दौरान लोगों ने एक दूसरे से गले मिल ईद की मुबारकबाद दी। नगर के जंगलिया, डुवलिया, मलकौली, शास्त्रीनगर, पारसनगर, पंवरिया टोला, दीनदयाल नगर, मलपुरवा, रहमान पुरानी बाजार,दरगाह रोड़ आदि सभी जगहों पर लोगों ने अपने घरों पूरी अकीदत के साथ नमाज अदा की गई। पूरे देश में अमन चैन कायम करने की दुआएं मांगी गई। वहीं दूसरी ओर नगर थाना के पुलिस बीडीओ, सीओ विजय कुमार आदि ने सभी जगहों पर शांति व्यवस्था कायम के लिए लगातार प्रयासरत थे। विदित हो कि पर्व से जिले के विभिन्न थानों की पुलिस ने अपने क्षेत्र में फ्लैग मार्च करते हुए सभी को शांतिपूर्वक बकरीद मनाने की कड़ी चेतावनी भी दिया था।
बकरीद पर पुलिस रही चौकस, घरों पर अदा की गई नमाज
जिलेभर में बुधवार को शांतिपूर्ण माहौल में बकरीद का त्योहार संपन्न हुआ। कोरोना के कारण लोगों ने अपने घरों से ही नमाज अदा की। एक दूसरे को इस पर्व की बधाई दी। इस क्रम में गिने चुने व खास करीबी लोगों को हीं भोजन पर निमंत्रित किया गया था। इस त्योहार को लेकर नगर में पुलिस प्रशासन भी चौकस रही। साथ हीं चौक चौराहों पर पुलिस व दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई थी।

ग्रामीण क्षेत्रों में त्योहार की धूम रही
इस दौरान नगर के कई मोहल्ले में भी इस अवसर पर लोग एक दूसरे से मिले। पर, कोरोना के कारण लोगों की संख्या समिति रही। इधर ग्रामीण क्षेत्रों में इस त्योहार की धूम रही। गांवों में भी शांतिपूर्ण माहौल में हर्षोल्लास के साथ बकरीद का त्योहार मनाया गया। उल्लेखनीय है कि सालों से इस पर्व को धूमधाम से शहर से लेकर गावों में मनाया जाता है। जिसमें सभी समुदाय के लोगों की सहभागिता रहती है। पर, बीते दो सालों से कोरोना के कारण अन्य पर्व त्योहारों की तरह इसे भी सादे तरीके से मनाया जा रहा है।

शांतिपूर्ण मनाया गया बकरीद
मांझा। कोरोना महामारी के मद्दे नजर इससे बचाव करते हुए लोगों ने घर में ही बकरीद की नमाज अदा की। बकरीद का पव शांतिपूर्ण मनाया गया ,कहीं से भी कोई अप्रिय घटना की समाचार प्रेषण तक प्राप्त नहीं है।
भोरे में बकरीद का त्योहार शांतिपूर्ण सम्पन्न
भोरे। स्थानीय प्रखंड क्षेत्र में बुधवार को बकरीद का त्योहार शांतिपूर्ण सम्पन्न हो गया। इस अवसर पर मुस्लिम समाज के लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए अपने दरवाजे पर ही नमाज अदा की तथा दुआएं मांगी ।प्रखंड के लामिचौर बाजार, सिसई, कोरेया, घानाछापर, रकबा, हरिहरपुर, बखरिया आदि गांवों में इस त्योहार को सादगी पूर्वक मनाया गया। शांतिपूर्ण व्यवस्था को लेकर कई स्थानों पर पुलिस बल के साथ मजिस्ट्रेट की तैनाती भी की गई थी। प्रखंड के सभी क्षेत्रों में यह त्योहार शांतिपूर्ण सम्पन्न हो गया।इस त्योहार में त्रिस्तरीय पंचायत के वर्तमान एवं भावी प्रतिनिधियों ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

खबरें और भी हैं...