गोपालगंज के धतीवना में मंत्री जनक राम ने लगाई चौपाल:मुखिया की हत्या से सहमे दलितों को कहा- किसी से डरने की जरूरत नहीं

गोपालगंज7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़ित परिवार के सदस्यों से बात करते मंत्री जनक राम। - Dainik Bhaskar
पीड़ित परिवार के सदस्यों से बात करते मंत्री जनक राम।

गोपालगंज जिले के धतीवना पंचायत के दिवंगत मुखिया सूखल मुसहर के घर आज खान एवं भूतत्व मंत्री जनक राम पहुंचे। मंत्री ने मुखिया के परिजनों को सांत्वना देने के बाद दलित बस्ती के लोगों के साथ बैठक की। ग्रामीणों ने मंत्री को बताया कि मुखिया की हत्या के बाद तीन दिनों से दलित बस्ती के लोग काम पर जाने के लिए घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं।

मंत्री ने गांव में चौपाल लगाकर कहा कि किसी से भी डरने की जरूरत नहीं है। आप लोग खुलकर मुखिया सुखल मुसहर की हत्या करने वालों का नाम बताइए, पुलिस कार्रवाई करेगी। इंसाफ दिलाने में सरकार पीछे नहीं होगी।

दलित बस्ती के लोगों के बीच बैठक करते मंत्री।
दलित बस्ती के लोगों के बीच बैठक करते मंत्री।

बता दें कि 18 जनवरी की सुबह थावे थाना क्षेत्र के धतीवना गांव में पंचायत के मुखिया सूखल मुसहर की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में पांच लोगों के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी, जिसमें अबतक एक भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

खान एवं भूतत्व मंत्री ने कहा कि पुलिस-प्रशासन से लगातार बात हो रही है। हत्या करनेवाले बचेंगे नहीं। दलित बस्ती के लोग डरे और सहमे हुए हैं। इसलिए वहां के लोगों के बीच बैठक कर उन्हें आश्वस्त किया कि डरने की जरूरत नहीं है। बहुत जल्द अपराधियों की गिरफ्तारी होगी।

मंत्री ने कहा कि पूर्व के शासन काल में कभी कमजोर लोगों को मुखिया-जिला पार्षद बनने का अवसर नहीं मिला। बिहार में जब एनडीए की सरकार आयी तो कमजोर वर्ग के लोगों को रिजर्वेशन देकर उनकी माली हालत में सुधार लाने के लिए मुखिया-बीडीसी जिला पार्षद बनने का अवसर मिला। दुख की बात है कि ऐसे लोगों के साथ घटना घट रही है। सरकार इसपर गंभीर है, इसलिए पुलिस प्रशासन को भी गंभीरता से घटना को अंजाम देनेवाले पर कानून का शिकंजा कसना होगा।