सुराग:गंडक नदी में लापता किसान का दूसरे दिन भी नहीं मिला सुराग

गोपालगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गंडक नदी में लापता किसान को ढूंढते स्थानीय गोताखोर - Dainik Bhaskar
गंडक नदी में लापता किसान को ढूंढते स्थानीय गोताखोर

सोमवार को विशंभरपुर थाना क्षेत्र के काला मटिहिनिया गांव के पास नदी की धारा में लापता हुए ग्रामीण की मंगलवार को भी कोई सुराग नहीं लग सका। स्थानीय स्तर पर ग्रामीणों ने नदी में लापता ग्रामीण को ढूंढने का दिन भर प्रयास किया पर सफलता हाथ नहीं लगी। हालांकि पूरे प्रकरण में प्रशासन के असहयोग पूर्ण रवैया से ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। काला मटिहिनिया गांव निवासी मुकेश कुमार सिंह का कहना था कि उनके स्तर से सदर एसडीओ, अंचल पदाधिकारी और कुचायकोट वीडिओ से कई बार फोन पर मामले की जानकारी देते हुए लापता ग्रामीण को ढूंढने में सहयोग की मांग की गयी पर अधिकारियों द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया गया। इस संबंध में जब थानाध्यक्ष विशंभरपुर से संपर्क किया गया तो उनके द्वारा बताया गया कि तमाम पुलिसकर्मी चुनाव की ड्यूटी में चले गए हैं।

प्रशासन के स्तर पर कोई सहयोग नहीं मिलने के चलते ग्रामीण अपने स्तर से जाल और नाव के मदद से नदी में लापता ग्रामीण की तलाश करते रहे पर सफलता हाथ नहीं लगी। विदित हो कि विशंभरपुर थाना क्षेत्र के काला मटिहिनिया वार्ड नंबर 3 निवासी मैनेजर यादव और सुमन यादव सोमवार को गांव के पास स्थित नदी को पारकर अपने खेतों की तरफ जा रहे थे। इस दौरान दोनों तेज धारा में बहने लगे। ग्रामीणों द्वारा शोर मचाने पर आसपास के कुछ लोगों ने नदी में जाकर मैनेजर यादव को बचा लिया। जबकि सुमन यादव का कुछ पता नहीं चल सका। इस संबंध में सोमवार को भी ग्रामीणों ने लापता ग्रामीण को ढूंढने की कोशिश की पर सफलता हाथ नहीं लगी। मंगलवार को भी प्रशासन के स्तर पर कोई सहयोग नहीं मिलने के बाद ग्रामीण अपने स्तर से लापता सुमन यादव को ढूंढने की कोशिश की पर सफलता हाथ नहीं लगी।

खबरें और भी हैं...