गोपालगंज में क्रिमिनल लॉयर का मर्डर:प्रैक्टिस के लिए सिविल कोर्ट जा रहे थे, अपराधियों ने 4 गोली मारी; 2 दिन पहले मिली थी धमकी

गोपालगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
क्रिमिनल लॉयर राजेश पांडेय। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
क्रिमिनल लॉयर राजेश पांडेय। (फाइल फोटो)

गोपालगंज में दिनदहाड़े एक क्रिमिनल लॉयर राजेश पांडेय की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वकील मंगलवार सुबह प्रैक्ट्रिस के लिए जा रहे थे। इसी दौरान बाइक सवार 3 अपराधी आए और गोली मार दी। क्रिमिनल लॉयर को 4 गोली लगी। गोलियों की आवाज सुनकर इलाके में हड़कंप मच गया। आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। स्थानीय लोग आनन-फानन में अस्पताल लेकर गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया।

आक्रोशित अधिकवक्ताओ ने शहर के मौनिया चौक के पास सड़क जाम कर आवगमन पूरी तरह बाधित कर इस दौरान आम से लेकर खास तक के लोग परेशान रहे। आक्रोशित अधिवक्ताओ ने कहा कि आए दिन अधिवक्ताओ के साथ आपराधिक वारदात हो रहे है लेकिन प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाई नही की जा रही है ऐसे अधिवक्ता अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहे है है।

इधर, घटना से वकीलों ने पुलिस प्रशासन खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। वकीलों नेशहर के मौनिया चौक के पास सड़क जाम कर आवगमन पूरी तरह बाधित कर दिया। इस दौरान आम से लेकर खास तक के लोग परेशान रहे। वे हत्यारों की गिरफ्तारकी की मांग कर रहे थे।

जूनियर अधिवक्ता दिलीप प्रसाद ने कहा कि राजेश पाण्डेय ने एक केस की पैरवी की थी। इसमें वो जीत गए थे। दो दिन पहले उस क्लाइंट के विरोधी ने राजेश को उनके टेबल पर आकर गोली मारकर हत्या करने की धमकी दी थी। यहीं नहीं दो माह पहले भी उनके ऊपर फायरिंग की गई थी। जिसमें वे बच गए थे। पुलिस इस मामले को गंभीरता से ले।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। पुलिस के अनुसार, हत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है। कुछ लोगों से पूछताछ की जा रही है। मृत वकील की पहचान ​​​​​कुचायकोट बाजार निवासी राजेश पांडेय के रूप में हुई है।

सहयोगी के साथ बाइक पर बैठकर जा रहे थे

परिजनों का कहना है, 'राजेश अपने एक सहयोगी जितेंद्र चौबे के साथ बाइक पर बैठकर सिविल कोर्ट में प्रैक्टिस के लिए जा रहे थे। तभी बाइक सवार अपराधी आए और ताबड़तोड़ गोलीबारी करने लगे। इसमें उनकी मौत हो गई। उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी, फिर भी किसने और क्यों हत्या की, यह जांच का विषय है।'

बार एसोसिएशन ने कहा- वकीलों पर हमला बर्दाश्त नहीं

बार एसोसिएशन के सचिव शैलेंद्र तिवारी ने कहा, 'वकीलों पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पिछले एक साल में तीन वकीलों को टारगेट किया गया है, लेकिन पुलिस प्रशासन की तरफ से कोई मदद नहीं मिल रही है। आज भी अधिवक्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। इसके विरोध में नो वर्क रहेगा। 6 घंटे में अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो आगे उग्र आंदोलन किया जाएगा।'

खबरें और भी हैं...