अपील:दशहरा पर्व को देखते हुए कोरोना से बचाव को लेकर डीएम ने लोगों से की अपील

गोपालगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना को हराने के लिए प्रशासन ने कमर कस ली है। प्रयासों के साथ डीएम डॉ नवल किशोर चौधरी ने जिला वासियों को दशहरा पर्व मनाने के साथ कोरोना से बचाव के लिए सावधानी बरतने की भावुक अपील की है। डीएम ने वीडियो जारी कर शुरुआत कुछ यूं की कि जिले के लोगों को मेरा नमस्कार करते हुए कहा कि जैसा कि आप जानते हैं कि पूरे देश और जिला में कोरोना महामारी को लेकर सभी लोग चौकस है। जिस तरह कोरोना पर जीत पाने में सभी लोगों का सहयोग मिला उसी तरह के सहयोग की अब आवश्यकता है दशहरा पर्व में भीड़ से बचने की अपील की।

उन्होंने अपील किया कि जब भी आप घर से बाहर निकले तो मास्क अवश्य लगाएं। दो गज की दूरी है बहुत जरूरी, इस बात को कतई नहीं भूले। हाथों को साबुन से बार-बार धोते रहे। जिले में पंडालों के पास केन्द्र बनाएं गए है जहां टीकाकरण कराया जा रहा है। कोरोना का कोई लक्ष्ण दिखने पर अस्पताल में डाक्टर की सलाह लें। भीड़ से बचें। उन्होंने कहा कि दशहरा पर सांस्कृतिक कार्यक्रम भी नहीं होंगे। अश्लील गाने बजाने पर भी प्रशासन ने रोक लगा दी है। ध्वनि प्रदूषण को देखते हुए पूजा पंडालों में डीजे नहीं बजाने को कहा गया है। पंडालों में लाउडस्पीकर तो बजेंगे लेकिन अधिक डेसीबल वाले नहीं होंगे। इसके लिए पूजा समितियों को अनुमति लेनी होगी। गौरतलब हो कि जिला प्रशासन ने कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए निर्णय लिया है। डीएम ने लोगों से भी शांतिपूर्ण तरीके से दशहरा मनाने की अपील की है। डीएम की अध्यक्षता में वरीय अधिकारियों की बैठक चार दिन पहले हुई थी, जिसमें दशहरा पूजा से संबंधित सभी बिंदुओं पर विचार किया गया। ज्यादातर अधिकारियों का सुझाव था कि कोरोना वायरस का खतरा अभी टला नहीं है। इसलिए दशहरा पर मेले के आयोजन को कोविड गाइडलाइन को देखते हुए अनुमति दी जाए, क्योंकि मेले में भीड़ हो जाती है।

खबरें और भी हैं...