पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मीरगंज नगर पंचायत:अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के खिलाफ लाया गया अविश्वास प्रस्ताव

गोपालगंजएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नगर कार्यपालक पदाधिकारी के आते ही दो पक्षों ने अविश्वास की प्रस्ताव की नोटिस दी

लगभग 3 वर्षों के बाद मीरगंज नगर पंचायत में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने पर शहर का राजनीतिक तापमान अचानक बढ़ गया है। शनिवार को नगर पंचायत कार्यालय खुलते ही कुछ वार्ड पार्षदों की हलचल बढ़ते देखकर कयास लगाया जाने लगा कि आज कुछ नया होने वाला है। नगर कार्यपालक पदाधिकारी के आते ही दो पक्षों ने अपने अपने तरफ से नगर अध्यक्षा और उपाध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास की प्रस्ताव की नोटिस दी।

एक पक्ष की तरफ से मुख्य पार्षद के विरुद्ध वार्ड छ: के पार्षद सत्येंद्र कुमार के द्वारा विश्वास अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया गया जिसमें 8 वार्ड पार्षदों का समर्थन का दावा किया गया है।वही दूसरे पक्ष के द्वारा भी मुख्य पार्षद के विरुद्ध नोटिस लाया गया। इसके साथ ही उप मुख्य पार्षद के विरुद्ध वार्ड 15 के वार्ड पार्षद प्रेम प्रकाश सिंह के द्वारा अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया गया जबकि एक अन्य पक्ष में भी उनके खिलाफ लिखित नोटिस दिया।

एक ही दिन एक साथ अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के विरुद्ध दो दो अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस देने से लोग हैरत में पड़ गए हैं। वार्ड पार्षद सत्येंद्र कुमार के तरफ से दिए गए।वही एक अन्य गुट के द्वारा दिए गए अविश्वास प्रस्ताव के नोटिस में 9 वार्ड पार्षदों का समर्थन करने की बात कही गई है। हैरत की बात है कि मीरगंज नगर पंचायत में कुल मिलाकर मात्र 16 वार्ड पार्षद है पर दोनों पक्षों की को मिलाकर देखा जाए तो कुल वार्ड पार्षदों की संख्या 17 हो जा रही है।

बोर्ड की बैठक टली: इस बीच नगर पंचायत में आज 15 अगस्त की तैयारी को लेकर बुलाई गई बैठक टाल दी गई । बैठक को टालने का कारण अध्यक्ष और उपाध्यक्ष का तबीयत खराब होना बताया जा रहा है। नगर कार्यपालक पदाधिकारी केशव गोयल ने पुष्टि किया कि आज उन्हें वर्तमान अध्यक्षा और उपाध्यक्ष खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का दो नोटिस मिला है जिस पर सम्यक विचारों उपरांत अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी।

दोनों पक्षों ने दिया कुव्यवस्था और अकर्मण्यता का हवाला
मुख्य पार्षद के खिलाफ दिए गए अविश्वास प्रस्ताव के नोटिस में दोनों पक्षों के तरफ से विकास कार्यों की अनदेखी, शहर में साफ सफाई एवं नाला निर्माण के प्रबंधन में कुव्यवस्था एवं नगर पंचायत के कर्मचारियों के बेलगाम होने की बात कही गई है। इस संबंध में नगर पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष आनंद यादव और वार्ड 14 की पार्षद मंजू देवी ने संयुक्त रूप से बताया कि नगर पंचायत में कुव्यवस्था का राज चल रहा है जिसके कारण विकास कार्य ठप है और नगर वासी परेशान हैं।

ऐसे में भी अपने साथी पार्षदों के सहयोग से अविश्वास प्रस्ताव लेकर आए हैं वहीं दूसरी तरफ वार्ड पार्षद सतेंद्र कुमार का कहना था कि विकास कार्यों की अनदेखी और अन्य वजहों से उनके द्वारा अविश्वास प्रस्ताव लाया गया है। इस बीच वर्तमान मुख्य पार्षद मोहिता कुमारी का कहना था कि अधिकांश वार्ड पार्षदों का सहयोग उन्हें हासिल है ऐसे मे अविश्वास प्रस्ताव का कोई मतलब नहीं है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें