सख्ती:गश्ती दल पर होगी केंद्रों की निगरानी जिम्मेवारी

गोपालगंज2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गश्ती दल पर होगी मतदान केंद्रों की जिम्मेदारी। - Dainik Bhaskar
गश्ती दल पर होगी मतदान केंद्रों की जिम्मेदारी।
  • सभी प्रखंडों में 24 फ्लाइंग स्क्वायड की टीम भी चुनाव के दौरान कड़ी निगरानी रखेगी

विजयीपुर प्रखंड के 13 पंचायतों में होने वाले पंचायत चुनाव के दौरान मतदान केंद्रों पर सुरक्षा व्यवस्था लेकर अधिकारियों व पुलिसकर्मियों की तैनाती के तथा मतदान कर्मियों को रवाना किया जा रहा है। चुनाव में शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए दोनों अनुमंडल में जोन तथा सभी 14 प्रखंड में सुपर जोन बनाया गया। अलावा इसके चुनाव के दौरान मतदान केंद्रों पर नजर रखने के लिए सेक्टर का गठन किया गया है। विभागीय स्तर पर मतदान के दौरान तमाम मतदान केंद्रों पर कड़ी निगरानी रखने के लिए गश्ती दल टीम का गठन किया गया है जाे इसकी निगरानी करेंगे। इसके अलावा सभी प्रखंडों में 24 फ्लाइंग स्क्वायड की टीम भी चुनाव के दौरान कड़ी निगरानी रखेगी।

पदाधिकारी उपलब्ध कराएंगे मतपत्र
चुनाव में ग्राम पंचायत के चार पदों में मुखिया जिला परिषद वार्ड सदस्य व पंचायत समिति का निर्वाचन ईवीएम से एवं ग्राम कचहरी के दो पदों में पंच सरपंच का चुनाव मतपेटी से कराया जाना है।ईवीएम से होने वाले मतदान के लिए वार्ड सदस्य व मुखिया का सीयू द्वितीय मतदान पदाधिकारी (पी 3 बी) के पास रहेगा।

मतदान कक्ष में रहेगा वोटिंग कम्पार्टमेन्ट
एक साथ ईवीएम मतपत्र पर वोट डालने में मतदाताओं को परेशानी ना हो इसके लिए विशेष तैयारी की जा रही है। मतदाताओं की परेशानी को दूर करने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग ने कई तरह की व्यवस्था शुरू कर दी है। जिससे मतदाता आसानी से वोट डाल सकेंगे। इसके लिए निर्वाचन आयोग ने मतदान कक्ष में वोटिंग कंपार्टमेंट की स्थापना का निर्देश दिया है। मतदाताओं को किसी प्रकार का भ्रम ना हो इसके लिए की जा रही व्यवस्था 21 के अनुसार वोटिंग कंपार्टमेंट की व्यवस्था इसी प्रकार से सुनिश्चित की जाएगी। बता दें कि इस बार पंचायत चुनाव में मतदाता एक साथ ही ईवीएम और मतपत्र दोनों का प्रयोग करेंगे। छह पदों के लिए होने वाले चुनाव के लिए मतदाता एक साथ ईवीएम का बटन भी दबाएंगे और मतपत्र पर पसंदीदा प्रत्याशी के चुनाव चिन्ह पर ठप्पा भी लगाएंगे।
मतदाता एक साथ ईवीएम का बटन भी दबाएंगे और मतपत्र पर ठप्पा भी लगाएंगे
पंचायत कार्यालय के अनुसार इस बार मतदाता एक साथ ईवीएम का बटन भी दबाएंगे और मतपत्र पर पसंदीदा प्रत्याशी के चुनाव चिन्ह पर ठप्पा भी लगाएं। इसके लिए आयोग से दिशा निर्देश मिला है।

खबरें और भी हैं...