पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परेशानी:न रहने का ठिकाना न खाने की सुध, पॉलीथिन के नीचे रातें गुजार रहे 15 हजार बाढ़पीड़ित परिवार

गोपालगंज5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 130 गांवों में बाढ़ , 3 लाख से ज्यादा की आबादी चहुंओर से घिरी, चार प्रखंडों की 200 सड़कों पर बह रहा पानी

सिटी रिपोर्टर| गोपालगंज बाढ़ का पानी तेजी से नए इलाकों में फैल रहा है। तीन दिनों में चार प्रखंडों मांझा, बरौली, सिधवलिया और बैकुंठपुर के 125 गांवों में बाढ़ की तबाही देखी जा रही है। जिले की करीब 3 लाख आबादी चारो तरफ से घिर गई है। मुख्य सड़कें व लींक रोड डूबने से करीब सभी गांवों का संपर्क जिला व प्रखंड मुख्यालय से टूट गया है। चारों प्रखंडों के 150 सड़कों पर 3 से 4 फीट पानी बह रहा है। संपर्क टूटने से चाह कर भी लोग रिश्तेदारों व परिजनों की सहायता नहीं कर पा रहे हैं।

तबाही का आलम यह है कि 15 से ज्यादा परिवार विस्थापित होकर तटबंधों व सड़क के किनारे रातें गुजार रहे हैं। किसी तरह की सरकारी सहायता नहीं मिलने से पीड़ितों में प्रशासन के प्रति आक्रोश बढ़ रहा है। हमीदपुर व जगदीशपुर के पीड़ित परिवारों ने बताया कि घर में पानी घुसने से वे सड़क पर पॉलीथिन टांग कर गुजारा कर रहे हैं। खाने के लिए कुछ बचा नहीं है। सरकारी स्तर पर अभी तक कम्यूनिटी किचन भी व्यवस्था नहीं हो सकी है। बाढ़ पीड़ितों का दर्द हम आपको दिखा रहे हैं ......
डेढ़ लाख लोग घरों के छत पर
मांझा, बरौली, सिधवलिया और बैकुंठपुर में करीब 1.5 लाख की आबादी प्रभावित हो गई है। 50 आबादी विस्थापित होकर तटबंधों या सुरक्षित स्थानों पर शरण ले रही है। जबकि एक लाख लोग घर की छतों पर शरण ले रहे हैं।

चारों प्रखंडों के 150 सड़कों पर 3 से 4 फीट पानी बह रहा है

सरकारी स्तर पर अभी तक कम्यूनिटी किचन भी व्यवस्था नहीं हो सकी है

45 मकान हुए ध्वस्त
दाेबारा बाढ़ से चारों प्रखंड में अब तक 45 मकान ध्वस्त होने की सूचना है। हालांकि प्रशासनिक स्तर पर ध्वस्त मकानों की सूची व आंकड़े अब तक उपलब्ध नहीं हो पाए हैं । सोनवलिया गांव में जगदीश दुबे की दो मंजिला मकान गिर गसा है। सोनवलिया काली स्थान व कृतपूरा गांव में 25 लोगों के घर धरासाई हो चुके हैं।

पॉलीथिन में सिसकती जिंदगी
हमीदपुर और बसहां गांव। आबादी करीब दो हजार। यहां बाढ़ का पानी 4 से 5 फूट बह रहा है। करीब 400 परिवार रिटायर बांध और हाईवे पर शरण लिए हैं। तस्वीर में आप देख रहे हैं कि बांध पर त्रिपाल के नीचे पीड़ित परिवार दिन काट करे हैं।
ध्वस्त हुए कई कच्चे मकान
यह बदहाली सोनवलिया गांव की है। कच्चे कमान वाले करीब 40 घरों की बस्ती पूरी तरह से डूब गई है। यहां 20 मकान ध्वस्त हो गए हैं। घर गिरने के बाद पीड़ित परिवार विस्थापित हो कर दूसरे जगह चले गए हैं। पीड़ितों की निगाहें केवल सरकारी मदद पर टीकी हुई है।
दबाजार में घुसा पानी
करीब 125 गांवों को डुबोने के बाद बाढ़ का पानी हर घंटे नए इलाकों में प्रवेश कर रहा है। पूर्वांचल के कई बाजारों में पानी प्रवेश कर गया है। राजापट्‌टी बाजार में 4 फीट पानी बह रहा है। मार्केट के 500 से ज्यादा दुकानों में पानी प्रवेश कर गया है। व्यवसायियों का बड़े पैमाने पर नुकान हुआ है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

और पढ़ें