छापेमारी:उचकागांव में जेल से रिहा हुए युवक को बदमाशों ने मारी गोली, हालत गंभीर होने पर सदर अस्पताल रेफर

गोपालगंज9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सदर अस्पताल में लगी भीड़ - Dainik Bhaskar
सदर अस्पताल में लगी भीड़
  • खेत में काम करने के दौरान मारी गई गोली,पुलिस गिरफ्तारी के कर रही छापेमारी

थाना क्षेत्र के बराड़ी जगदीश गांव में नामजद लोगों ने जेल से रिहा हुए युवक की गोली मार दी।जिसमें वह गंभीर रूप से जख्मी हो गए। इस घटना के बाद परिजनों ने जख्मी युवक को तत्काल इलाज के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।फिलहाल युवक की स्थिति नाजुक बनी हुई है।
पहले घेर कर पीटा इसके बाद मारी गोली : जानकारी के अनुसार बड़ारी जगदीश गांव निवासी ललन सहनी के पुत्र मनोज सहनी अपने खेत में काम कर रहे थे।तभी नामजद आरोपियों ने उसे चारों तरफ से घेर कर जमकर पिटाई कर दी।जख्मी के पिता का आरोप है आरोपियों ने पहले पिटाई की। इसके बाद जब वह जान बचा कर भाग रहा था तब उसके जांघ में गोली मार दी। जिससे गोली आर पार हो गया। वहीं मौके के फायदा उठा कर आरोपी फरार हो गए। जानकारी पाकर मौक़े पर पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी है।
तीन साल बाद हुआ था रिहा : फिलहाल युवक की स्थिति नाजुक बनी हुई है। जख्मी के पिता ने बताया कि आर्केस्ट्रा में ढाई साल पहले मारपीट के मामले में जेल से छुट कर डेढ़ माह पहले ही उनका बेटा घर आया था। ढाई साल पहले यानी 4 जून 2019 को उचकागांव थाना क्षेत्र के बरारी जगदीश गांव निवासी शंकर सहनी को सिर पर पिस्टल सटा कर गोली मारकर उनकी हत्या कर दी गई थी। इस घटना के हत्यारोपी अमरजीत सहनी,मनोज सहनी व उसके छोटे भाई अर्जुन सहनी को नामजद आरोपी बनाया गया था।जिसके बाद पुलिस द्वारा तीनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दी गई थी। इसी बीच मनोज सहनी डेढ़ माह पहले जेल से छूट कर घर आया था।

खबरें और भी हैं...