पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जागरुकता अभियान:कोरोना संक्रमण के बीच मौसमी बीमारियों का भी खतरा बढ़ा, तकलीफ महसूस होने पर तुरंत लें डॉक्टरी सलाह

गोपालगंज5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • दूसरे वायरस के संक्रमण के लिए अलग कराएं टेस्ट, कोरोना के साथ मौसमी इनफ्लुएंजा की भी जांच

कोरोना संक्रमण से पूरा जिला जूझ रहा है। मौसम में बदलाव के साथ ही सीजनल बीमारियों का भी खतरा बढ़ा है। मच्छरजनित बीमारियां डेंगू, मलेरिया और चिकुनगुनिया के मामले भी सामने आ रहे हैं, जबकि वायरल फ्लू या इन्फ्लूएंजा जैसी बीमारियों का बढ़ना भी इस कोरोना काल में ज्यादा खतरनाक है।

कोरोना के साथ इन बीमारियों के उपचार का प्रोटोकॉल नहीं होने से चिकित्सक भी चिंतित थे। लेकिन अब कोरोना के साथ इन बीमारियों के सह-संक्रमण के खतरे को देखते हुए उपचार और सावधानियों के दिशानिर्देश जारी किए हैं। स्वास्थ्य विभाग के लिए ये बीमारियां न सिर्फ क्लीनिकल चुनौतियां पेश करती हैं, बल्कि मरीजों के स्वास्थ्य पर दोहरा असर पड़ता है। कारण यह है कि इन बीमारियों के लक्षण भी कोरोना से मिलते हैं, जो संशय पैदा करते हैं।

सह-संक्रमण के लिए अलग से जांच करानी होगी
सीएस डॉ. टीएन सिंह ने कहा कि ‘सतर्कता व चौकसी से चिकित्सकों को सह-संक्रमण के मामलों के खतरनाक परिणामों को रोकने और क्लीनिकल नतीजों को सुधारने में सहायता मिलेगी। इसके लिए कोरोना की जांच प्रक्रिया तो वही रहेगी, लेकिन संदेह होने पर संभावित सह-संक्रमण के लिए अलग से जांच करानी होगी। सह-संक्रमण के मामलों में, क्रॉस रिएक्शंस हो सकते हैं।

यानि गलत निगेटिव या पॉजिटिव रिपोर्ट आ सकते हैं। संभावित सह-संक्रमणों के लिए अलग से भी जांच कराने की सलाह दी गई है। इनमें वे तमाम जांच शामिल हैं, जिन्हें आईसीएमआर ने कोविड -19 के लिए, नेशनल वेक्टर बॉर्न डिजीज कंट्रोल प्रोग्राम ने डेंगू, मलेरिया और चिकुनगुनिया के लिए और साथ ही एनसीडीसी ने मौसमी इन्फ्लुएंजा, लेप्टोस्पाइरोसिस के लिए निर्धारित किया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें