पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिगड़ रहा किचेन का जायका:बारिश और बाढ़ के कारण सब्जियों की अावक हो रही कम,थाली से दूर हुई सब्जी

गाेपलगंज20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सब्जियों की कीमत में फिर उछाल आ गया है। आलू की कीमत दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। आलू 30 रुपए किलो खुदरा में बिक रहा है। सब्जी विक्रेताओं का कहना है कि आलू यूपी से नहीं आ रहा है। स्थानीय कोल्ड स्टोरेज का आलू बाजार में है। वहीं, शिमला मिर्च, टमाटर, बैगन और करेला के भी दाम बढ़े हैं। जिले में झारखंड, पश्चिम बंगाल और यूपी से आलू की आपूर्ति होती है। अभी आलू की आवक काफी कम है। इस कारण दाम में बढ़े हैं।

हरी मिर्च 100 रुपये किलो
बरसात के मौसम की शुरुआत के साथ ही हरी सब्जियों की कीमत अचानक बढ़ गई है। वर्तमान समय में बाजार में कोई भी हरी सब्जी 40 रुपये प्रति किलो ग्राम से नीचे नहीं है। बाजार में 30 से 40 रुपया किलो बैगन और भिंडी 35 रुपये किलो के दाम सुन कर ही सब्जी खरीदने मंडी जाने वाले लोगों के होश उड़ जा रहे हैं।

बाजार में गोभी 100 रुपया किलो तो परवल 60 रुपये किलो बिक रही है। हर सब्जी के स्वाद में तीखापन लाने के काम आने वाली मिर्च की कीमत सब्जियों के स्वाद को फीका कर दे रही है। बाजार में शिमला मिर्च के साथ ही हरी मिर्च 100 रुपये किलो पहुंच गई है। जबकि आलू की कीमत में भी हर दिन उछाल हो रहा है। सब्जी व्यवसायियों की मानें सब्जियों की कीमत में अभी और उछाल आने के आसार हैं। आलू 35 रूपए से 40 रुपए किलो बिक रहा है।

खबरें और भी हैं...