पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अनदेखी:प्रखंड कार्यालय का नहीं बना भवन नेताजी ने नहीं बनाया चुनावी मुद्दा

गुरारू15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • चिकित्सा व्यवस्था का भी बुरा हाल, प्रतिनिधियों के प्रति दिख रही नाराजगी

जिला मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर दूर गुरुआ विधानसभा के गुरारू प्रखंड में कई ऐसी सुविधाओं की कमी है, जो लोगों को पिछले 25 वर्षों से खल रही है। न तो यहां आज तक प्रखंड का अपना भवन बना है और न ही थाना व अस्पताल का अपना भवन है। न ही नेताओं ने कभी इसे चुनावी मुद्दा बनाया। इससे जनता में जनप्रतिनिधियों के प्रति नाराजगी देखी जा रही है। वर्ष 1994 में गुरारू को प्रखंड का दर्जा प्राप्त हुआ था। लेकिन 25 साल गुजर जाने के बाद भी आज तक प्रखंड कार्यालय का अपना भवन नसीब नहीं हो सका है।

दो दशक से अधिक समय से यह कार्यालय गुरारू की बंद चीनी मिल के आवसीय परिसर में चल रहा है, जिसकी स्थिति आज काफी बदहाल है। अर्श से लेकर फर्श तक जर्जर हाल में है। यहां न तो दस्तावेज सुरक्षित है और न ही अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों को मीटिंग करने की पर्याप्त व्यवस्था। अब तक गुरुआ विधानसभा से कई विधायक बने, लेकिन किसी ने भी इस मामले में गंभीरता से पहल नहीं की। नतीजा है कि इसकी फाइलें अब तक कागजों में ही दौड़ लगा रही है।

गुरारू विकास कार्यों पर पड़ रहा है असर, प्रखंडवासी मायूस

थाना व अस्पताल का भी भवन नहीं

यहां का प्रखंड व अंचल कार्यालय सहित थाना, अस्पताल, बालविकास परियोजना व मनरेगा कार्यालय का भी अपना भवन नहीं है। ये सभी विभाग गुरारू चीनी मिल और सर्वोदय विद्या मंदिर प्लस टू स्कूल के परिसर में किसी तरह संचालित हो रहे हैं। ऐसी स्थिति में आम लोगों को इन संस्थानों से बेहतर सुविधा प्राप्त नहीं हो पा रही है। लोगों का कहना है कि किसी भी नेता ने इस मामले में गंभीरता से पहल नहीं की। मुखिया रणविजय कुमार सहित कई पंचायत प्रतिनिधियों ने कहा कि प्रखंड का अपना भवन होता तो विकास कार्यों को गति देने में काफी सहूलियत होती। मुखिया ने कहा कि गुरारू में एक डिग्री कॉलेज भी नहीं है। यह इलाका आज भी विकास के मामले में पिछड़ा हुआ है।

गुरारू बाजार में नहीं है सार्वजनिक शौचालय
यहां के लोगों की परेशानी यहीं खत्म नहीं होती है। गुरारू बाजार में आज भी सबसे बड़ी समस्या सार्वजनिक शौचालय की बनी हुई है। बाजार में एक भी सार्वजनिक शौचालय का आज तक निर्माण नहीं हुआ है। इससे सबसे ज्यादा कठिनाई महिलाओं को उठानी पड़ती है। इसके अलावे आज तक गुरारू, गुरुआ व परैया में स्थायी ऑटो स्टैंड की व्यवस्था नहीं हुई है। जिससे इन बाजारों में ऑटो सड़क पर लगती है।

आने वाले दिनों में भवन निर्माण की प्रक्रिया में तेजी आएगी: अंचलाधिकारी

अंचलाधिकारी निशांत कुमार ने बताया कि प्रखंड थाना और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के भवन निर्माण के लिए कोंची गांव में स्थल का चयन हो चुका है। आने वाले दिनों में भवन निर्माण की प्रक्रिया में तेजी आएगी। जल्द ही गुरारू प्रखंड कार्यालय का अपना भवन बनकर तैयार होगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप अपने अंदर भरपूर विश्वास व ऊर्जा महसूस करेंगे। आर्थिक पक्ष मजबूत होगा। तथा अपने सभी कार्यों को समय पर पूरा करने की भी कोशिश करेंगे। किसी नजदीकी रिश्तेदार के घर जाने की भी योजना बनेगी। तथ...

और पढ़ें