सख्ती:गुठनी में जलस्रोतों पर स्नान करने पर लगायी गयी रोक

गुठनी10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गुठनी प्रखण्ड में मकर संक्रांति को लगने वाले मेले पर स्थानीय प्रशासन ने रोक लगा दिया इसके लिए स्थानीय प्रशासन ने शुक्रवार की सुबह से लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों को इसकी सूचना देना शुरू कर दिया। इस संबंध में सीओ शंभूनाथ राम का कहना है कि प्रखंड के गुठनी बाजार, तेनुआ चौराहा, सेलौर चौराहा, सोहगरा बाजार, टड़वा, बलुआ समेत सभी चौक चौराहे पर माइक लगा कर मकर संक्रांति के दौरान नदी में स्नान न करने की अपील किया गया। इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सभी को मेला लगाने, भीड़ जुटाने, स्नान करने, पर प्रतिबंधित किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रखंड के ग्यासपुर घाट, योगीयडीह, सोहगरा, बद्री बाबा की कुटी और गुठनी स्थित गोलाघाट पर स्नान पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है। उन्होंने कड़े शब्दों में कहा कि कोविड गाईडलाइन के मुताबिक भीड़ जुटाने और स्नान करने वाले लोगों पर जुर्माना लगाया जाएगा। इसके साथ पुलिस एफआईआर भी दर्ज कर सकती है। कोविड से बचाव के लिए जागरूक करने के साथ ही सभी लोगों को मास्क लगाने, सामाजिक दूरी बनाने, बार-बार साबुन से हाथ धोने, स्वक्षता का पालन करने समेत अन्य चेतावनी भी दिया जा रहा था। सभी चौक चौराहों पर बिना मास्क वाले लोगों पर जुर्माना लगाया गया।

खबरें और भी हैं...