पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

विवाद:प्राचार्य की कुर्सी को ले कॉलेज बना रणक्षेत्र, रोड़ेबाजी में छह लोग जख्मी

हिलसा9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मामला महंत विद्यानंद इंटर कॉलेज का, दोनों पक्षों ने कराया थाना में केस

प्राचार्य की कुर्सी के विवाद में रविवार को हिलसा का महंत विद्यानंद इंटर कॉलेज दो गुटों की भिड़ंत से रणक्षेत्र बन गया। दाेनों गुट के लोग एक-दूसरे पर रोड़े बरसा रहे थे। घटना में आधा दर्जन लोग जख्मी हुए। दोनों पक्षों ने थाने में केस दर्ज कराया है। कॉलेज में दो सालों से प्राचार्य की कुर्सी के लिए दो पक्षों विवाद चल रहा है। वर्तमान में प्राचार्य के पर राजबल्लभ प्रसाद कार्यरत हैं। कुछ दिन पहले डीईओ ने व्याख्याता ब्रह्मदेव प्रसाद को कॉलेज का प्रभार सौंपने का आदेश निर्गत किया। ब्रह्मदेव प्रसाद डीईओ के आदेश लेकर कॉलेज पहुंचे तो प्राचार्य अनुपस्थित थे। इस कारण वह प्रभार नहीं ले सके। इसके बाद शनिवार से ही दोनों पक्षों में तनाव व्याप्त था।
तनाव की सूचना के बाद हिलसा सीओ मदन शर्मा और थानाध्यक्ष रविवार को कॉलेज पहुंचे। अधिकारियों के जानें के बाद दोनों पक्ष आपस में भिड़ गए। जिससे कॉलेज परिसर रणक्षेत्र में तब्दील हो गया।
आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी हो गया शुरू
प्राचार्य ने बताया कि प्रबंधन समिति ने 1989 में ही ब्रह्मदेव प्रसाद को बर्खास्त कर दिया था। ऐसी स्थिति में उन्हें प्रभार नहीं दिया जा सकता। इसी तरह दूसरे पक्ष ने बताया कि वह कॉलेज में नियमित हैं। जिला शिक्षा पदाधिकारी के आदेश के आलोक में उन्हें प्रभार मिलना चाहिए।
परीक्षार्थियों में धीरे-धीरे पनप रहा है आक्रोश
सूबे के सभी कॉलेजों में इंटर की प्रैक्टिकल परीक्षा चल रही है। विवाद के कारण महंत विद्यानंद कॉलेज के परीक्षार्थी परीक्षा देने से वंचित हैं। इस कारण उनमें आक्रोश पनप रहा है। परीक्षार्थी बिना परीक्षा दिए लौट रहे हैं। 9 जनवरी से प्रायोगिक परीक्षा संचालित है। इधर छात्र-छात्राओं ने कहा कि सरकार और शिक्षा विभाग को मामले में कार्रवाई करनी चाहिए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser