• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Jagdishpur
  • On The Highway, The Container Of Nagaland Number Trampled The Bike Rider, Died, After The Incident, Angry Villagers Blocked The Highway For Two And A Half Hours

पूर्व मुखिया की मौत:हाईवे पर नगालैंड नंबर के कंटेनर ने बाइक सवार को रौंदा, हुई मौत, घटना के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने ढाई घंटे तक जाम रखा हाईवे

जगदीशपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
घाट पोखर पंचायत के पूर्व मुखिया की मौत के बाद दुर्घटनाग्रस्त। - Dainik Bhaskar
घाट पोखर पंचायत के पूर्व मुखिया की मौत के बाद दुर्घटनाग्रस्त।

आरा-मोहनिया नेशनल हाईवे 30 पर जगदीशपुर थाना क्षेत्र के तुलसी गांव के समीप शनिवार को अनियंत्रित कंटेनर ने बाइक पर सवार एक पूर्व मुखिया को रौंद दिया। इस घटना में बाइक पर सवार जगदीशपुर प्रखंड के परसिया पंचायत के पूर्व मुखिया रामाशंकर चौबे (58 वर्ष) की मौके पर ही मौत हो गयी।

जबकि बाइक पर सवार उनका एक साथी जख्मी हो गये। मृत पूर्व मुखिया जगदीशपुर थाना क्षेत्र के हाटपोखर गांव निवासी स्व. बिन्देश्वरी चौबे के पुत्र थे। घटना के बाद पुलिस ने नागालैंड नंबर के कंटेनर को जब्त कर लिया है। जबकि इसका चालक फरार है। इस घटना के बाद खलबली मच गयी और मौके पर लोगों की भीड़ जुट गयी।

बीच सड़क पर पड़े शव के समीप ही गुस्साए ग्रामीण बैठ गये और सड़क जाम कर दिया। सड़क जाम किए जाने से देखते ही देखते दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गयी। गुस्साए ग्रामीण पीड़ित परिवार को मुआवजा देने और दोषी को गिरफ्तार कर कार्रवाई करने की मांग कर रहे थे।

बाद में जगदीशपुर के सीओ कुमार कुंदन लाल और थानाध्यक्ष जगनिवास सिंह पुलिस बलों के साथ पहुँचे और गुस्साए ग्रामीणों व परिजनों को समझा-बुझाकर और समुचित मुआवजा की राशि दिलाने का आश्वासन देकर जाम हटवाया। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल आरा भेजा।

जाम हटने के बाद स्थिति सामान्य बनी और वाहनों का आवागमन शुरू हो पाया। इस बीच लगभग ढ़ाई घंटे तक सड़क जाम रहने के कारण जाम में फंसे लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। जाम हटने के बाद लोगों ने राहत की साँस ली।

जगदीशपुर के थानाध्यक्ष जगनिवास सिंह ने बताया कि नागालैंड नंबर के कंटेनर को जब्त कर लिया गया है। जबकि इसका चालक फरार है। जब्त कंटेनर के सहारे इसके मालिक और चालक के बारे में पता लगाया जा रहा है। मौके से फरार हुए चालक को गिरफ्तार करने के लिए सभी संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है।

अपने बेटी के ससुराल उदवंतनगर के भेलाई गांव जा रहे थे पूर्व मुखिया, रास्ते में हुई दर्दनाक घटना
बताया जाता है कि परसिया पंचायत के पूर्व मुखिया रामाशंकर चौबे शनिवार की सुबह अपने घर से बाइक पर सवार अपने साथी के साथ उदवंतनगर थाना क्षेत्र के भेलाई गांव अपने लड़की के ससुराल जा रहे थे। इसी दौरान एनएच 30 पर तुलसी गांव के समीप विपरीत दिशा से आ रहे अनियंत्रित कंटेनर ने उन्हें कुचल दिया।

इससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गयी। जबकि बाइक पर बैठे उनका एक साथी जख्मी हो गये। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार घटना के बाद शव कंटेनर में फंस गया और लगभग 100 मीटर तक घसीटता चला गया। वहीं बाइक भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी। घटना के बाद बीच सड़क पर पूर्व मुखिया का शव पड़ा देखकर ग्रामीण सकते में पड़ गये।

इसके बाद घटना की सूचना परिजनों को दी गयी। सूचना मिलते ही पीड़ित परिजनों में चीख-पुकार मच गयी। वहीं गांव में कोहराम मच गया। घटना के बाद पीड़ित परिजन और ग्रामीण घटनास्थल पर पहुँचे। पूर्व विधायक भाई दिनेश भी मौके पर पहुँचे।

आरा-मोहनियां एनएच पर तुलसी गांव के समीप हुई दर्दनाक घटना

गांव के ग्रामीण शोकाकुल
पूर्व मुखिया की मौत के बाद पीड़ित परिजनों पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। बताया जाता है कि मृतक की मृतक दो पुत्र नित्यानंद चौबे व प्रिंस चौबे और तीन पुत्री पम्मी कुमारी, रूबी कुमारी व दीपू कुमारी है। इसमें दो पुत्रियों व एक पुत्र की शादी हो चुकी है।

जबकि एक पुत्री व एक पुत्र अभी अविवाहित है। वहीं उनकी पत्नी राम कुमारी देवी का निधन लगभग 2 वर्ष पहले ही बीमारी के कारण हो गई थी। बताया जाता है कि दिवंगत पूर्व मुखिया वर्ष 2006 से 2011 तक परसियां ग्राम पंचायत के मुखिया थे। इस घटना के बाद पंचायत के ग्रामीण काफी शोकाकुल है। विभिन्न संगठनों से जुड़े लोगों ने इस घटना पर दुख जताते हुए दिवंगत पूर्व मुखिया को श्रद्धांजलि दी है।

खबरें और भी हैं...