पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

प्रवचन:घर को देवालय बनाने के लिए घर में पढ़ें: जीयर

जगदीशपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बोले संत- बड़े महापुरुषों का लक्ष्य गलत नहीं होता, सबसे बड़ी विपत्ति वह है जिसमें हम परमात्मा को भूल जाएं

श्री लक्ष्मी प्रपन्न जीयर स्वामी जी महाराज ने अपने प्रवचन में कहा कि दो-चार धार्मिक किताब हर घर में होना चाहिए। एक गीता प्रेस की किताब है ‘’’’क्या करें क्या न करें’’’’। इसको रखना चाहिए। दूसरा है भवन भाष्कर। इसमें घर के बारे में बताया गया है कि कहां खिड़की होना चाहिए, कहां टीवी, बल्ब होना चाहिए। कहां नल होना चाहिए। तीसरा भागवत महापुराण रखना चाहिए।

साक्षात भगवान श्री कृष्ण का स्वरूप हैं श्रीमद्भागवत महापुराण। हमेशा पढ़ना चाहिए। इससे घर देवालय हो जाएगा। उन्होंने कहा कि बड़े महापुरुषों का लक्ष्य कहीं गलत नही होता है। उनके अनुयायियों द्वारा तोड़- मरोड़कर ऐसे शब्दों में परोस दिया जाता है कि इससे समाज के लोग अस्त-व्यस्त हो जाते हैं। स्वामी जी ने कहा कि धर्म एक ही है। दर्शन अलग अलग हो सकता है।

धर्म एक ही है वह है सनातन धर्म, वैदिक धर्म। सनातन धर्म का अस्तित्व पहले भी था। आज भी है। आगे भी रहेगा। सनातन धर्म हमारे तन में, मन में, व्यवहार में व वाणी में समाया हुआ है। यही है सनातन धर्म। जैसे एक बेइमान, हिंसा करने वाला व्यक्ति को भी लगता है कि हमारे अगली पीढ़ी द्वारा बेइमानी, हिंसा न किया जाए।

यही तो है सनातन धर्म। जीयर स्वामी जी ने कहा कि विपत्ति को विपत्ति नहीं और संपत्ति को संपत्ति नहीं समझना चाहिए। हमारे पास जो विपत्ति आता है तो महापुरूष लोग यह मानते हैं कि जो मैंने किया था उसका मार्जन हो गया।

वैदिक मंत्रों से गूंज उठा महायज्ञ स्थल, उत्साह और उमंग के बीच उत्सवी नजारा दिखा
नगर पंचायत, जगदीशपुर के दयाराम पोखरा स्थित बहरसी मां काली मंदिर के परिसर में शुक्रवार को जलभरी के साथ शुरू हुए श्री लक्ष्मीनारायण महायज्ञ में शनिवार को दूसरे दिन भी भक्तिमय माहौल रहा। उत्साह व उमंग के बीच महिला-पुरुष श्रद्धालुओं की भीड़ से दिनभर रौनक बनी रही। महायज्ञ मंडप का परिक्रमा करने और माता रानी का पूजा-अर्चना करने के लिए भक्तों का तांता लगा रहा।

वैदिक मंत्रों की गूंज के बीच महायज्ञ स्थल का उत्सवी नजारा देखते ही बन रहा है। बहरसी मां काली मंदिर और महायज्ञ स्थल को काफी आकर्षक ढंग से सजाया गया है। जहां मनोरम छठा देखते ही बन रहा है। महायज्ञ आयोजन समिति की तरफ से सभी तरह की चाकचौबंद व्यवस्था की गयी है।

अद्भुत, अद्वितीय व आलौकिक नजारा के बीच शनिवार से श्री लक्ष्मी प्रपन्न जीयर स्वामी जी महाराज प्रवचन शुरू हुआ। प्रवचन सुनने के लिए भक्तों की भारी भीड़ जुटी रही। स्वामी जी के अमृत रूपी विभिन्न प्रसंगों को सुनकर भक्तगण काफी भावविभोर हुए। इसके पहले शनिवार को जगदीशपुर पहुँचने पर जीयर स्वामी जी महाराज का गाजेबाजे के साथ भव्य स्वागत किया गया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

    और पढ़ें