पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मिला लाभ:कोरोना से माता-पिता के मरने के बाद 3 बच्चों को मिला लाभ

जहानाबाद8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव से हमारे देश के साथ-साथ जिले मे काफी लोगों को अपने परिजनों को खोना पड़ा। जिसमें कुछ बच्चें ऐसे भी हैं, इस वैश्विक महामारी में जिनके माता पिता दोनों का देहांत हो गया है। ऐसे बच्चों की सहायता एवं राहत के लिए बिहार सरकार द्वारा बाल सहायता योजना के तहत लाभ दिया जाना है। सहायक निदेशक, जिला बाल संरक्षक इकाई आलोक कुमार ने बताया गया कि जिला पदाधिकारी हिमांशु कुमार राय के निर्देशानुसार जिले के रतनी-फरीदपुर प्रखंड के पंडौल पंचायत के हजामपुर गांव के निवासी शिव वचन शर्मा के तीन पौत्री को बाल सहायता योजना के तहत लाभान्वित करने हेतु जिला द्वारा स्वीकृत कर विभाग को भेजा गया है, जिसे समाज कल्याण विभाग अंतर्गत जिला बाल संरक्षण ईकाई द्वारा प्रति माह उनके जन्म प्रमाण पत्र के अनुसार 18 वर्ष की आयु तक 1500/- रुपया उनके खाते में दिया जाएगा। सहायक निदेशक, जिला बाल संरक्षण इकाई ने बताया कि समाज कल्याण विभाग अंतर्गत बाल सहायता योजना के माध्यम से ऐसे बच्चें जिनके माता पिता दोनों का देहांत हो चुका है तथा उनमें से किसी एक की मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हुई है, तो उन्हें उनके जन्म प्रमाण पत्र के अनुसार 18 वर्ष की आयु तक प्रति माह 1500/- रुपए डीबीटी के माध्यम से दिये जाऐंगे तथा उस इच्छुक बच्चे का नामांकन कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में किया जाता है।

खबरें और भी हैं...