पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

फर्जीवाड़ा:4 साल से बंद योजना को रिकाॅर्ड में दिखाया जा रहा जारी

जहानाबाद11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूर्वी सरेन पंचायत में 2014-15 में ही ली गई थी योजना, 11.27 लाख की लागत से बनना था भवन
  • फाउंडेशन का काम होने के बाद लगभग चार साल से काम है बंद, 3.70 लाख की हो चुकी है निकासी
  • चार साल से काम बंद रहने के बावजूद मनरेगा की बेवसाइट पर काम को दिखाया जा रहा ऑनगोइंग

रोजगार की गारंटी देने वाली केंद्र सरकार की महत्वपूर्ण योजना मनरेगा को भ्रष्ट सिस्टम ने किस प्रकार पोलियोग्रस्त कर दिया है, इसका जीता जागता उदाहरण मखदुमपुर प्रखंड के पूर्वी सरेन पंचायत में बनने वाला मनरेगा भवन है। भवन निर्माण की गति यह है कि पिछले पांच साल में मनरेगा भवन की पांच पांच फीट भी दीवार नहीं उठी। लगभग चार साल से काम बंद रहने के कारण आसपास के लोगों ने उसे खलिहान बना लिया है। सबसे हैरत की बात तो यह है कि इतने सालों में मनरेगा के कई पदाधिकारी और रोजगार सेवक आये और स्थानांतरित होकर चले गए लेकिन, इसके निर्माण को पूरा करने में किसी ने दिलचस्पी नहीं दिखाई। जिम्मेदार कर्मी और अधिकारियों ने जिला से लेकर केंद्र तक के लोगों को अपनी कलाबाजी से सच्चाई को सामने नहीं आने दिया।

पांच साल में पांच फीट भी नहीं उठ सकी मनरेगा भवन की दीवार
मनरेगा की बेवसाइट पर यह योजना ऑन गोइंग प्रोसेस में है अर्थात बेवसाइट पर इस योजना का कोई पदाधिकारी अवलोकन करें तो ऐसा प्रतीत होगा कि काम प्रगति पर है। जबकि धरातल पर यह योजना चार सालों से पूर्ण रूप से बंद है। मिली जानकारी के अनुसार पूर्वी सरेन पंचायत के टेहटा रजायन में मनरेगा भवन के निर्माण के लिए जगह चयनित की गई। वित्तीय वर्ष 2014-15 में इसके लिए योजना का चयन हुआ। भवन के निर्माण के लिए 11.27 लाख रुपये का प्राक्कलन बना और इसकी स्वीकृति भी मिल गई। स्वीकृति मिलने के बाद पूरे तामझाम के साथ भवन निर्माण का शुभारंभ किया गया। भवन निर्माण का कार्य शुरू होने के बाद लोगों को यह विश्वास जगा कि पंचायत में एक बेहतर भवन बनने का सपना साकार होगा। लेकिन, थोड़े ही दिन बाद लोगों का सपना काफूर हो गया।

स्थानीय लोगों ने कहा, भ्रष्ट सिस्टम की भेंट चढ़ चुकी है योजना
स्थानीय निवासी विद्यासागर प्रसाद ने बताया कि इसे कोई देखने वाला नहीं है। यह भवन भ्रष्ट सिस्टम की भेंट चढ़ चुका है। चार साल तक ना तो किसी प्रतिनिधि ने और ना ही किसी पदाधिकारी ने इसकी सुध ली है। मामले की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए और जिम्मेदार लोगों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। इस संदर्भ में मखदुमपुर प्रखंड के मनरेगा के कार्यक्रम पदाधिकारी ने बताया कि यह योजना काफी पुरानी है। उनके संज्ञान में यह मामला आया है। भरोसा दिलाया कि जल्द ही निर्माण स्थल का निरीक्षण कर निर्माण का कार्य शुरू कराया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें