पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

त्योहार:कोरोना के नियमों के साथ घरों में ही मनाई गई बकरीद

जहानाबाद12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रोटोकाल की वजह से मस्जिदों व ईदगाहों में नहीं हुआ सामूहिक नमाज, सादगी के साथ मनाया गया पर्व

कुर्बानी का महापर्व बकरीद जिले में पूरे पारंपरिक हर्षोल्लास व कोरोना के नियमों का पालन करते हुए मनाई गई। इस दफे करोना को लेकर मस्जिदों व ईदगाहों में पहले की तरह सामूहिक नमाज अता नहीं की गई। अधिकांश मुसलमान भाइयों ने अपने घरों में ही नमाज अदा कर सुख शांति समृद्धि के लिए अल्लाह की इबादत की। इस दौरान कोरोना महामारी से परिवार व मुल्क को बचाए रखने की दुआएं मांगी गई। मस्जिदों के इमाम ने जिले में अमन व चैन की दुआएं मांगी। नमाज के बाद रस्म के मुताबिक अल्लाह की रजा के लिए कुर्बानी दी गई। हैसियतमंद लोगों ने अपने-अपने घरों में बकरे की कुर्बानी दी। सक्षम लोगों ने अपने हिस्से की एक तिहाई भाग जरूरतमंदों में वितरित कर पर्व की खुशियां पारंपरिक रूप से साझा की।

मुस्लिम बाहुल्य इलाके में दिखी चहल-पहल
कुर्बानी को लेकर पूर्व से ही अल्पसंख्यक भाइयों ने बकरे की खरीद की गई थी। दरअसल मान्यता है कि अपने से पाल पोस कर रखे गए प्रिय चीज को अल्लाह को अर्पण करने से अल्लाह खुश होते हैं और अकीदतमंदों पर रहमत बरसाते हैं। इस परंपरा को आदि काल से ही मुसलमान बड़े शिद्दत से निर्वहन कर रहे हैं। इधर, कोरोना के कारण बकरीद के दिन भी मुस्लिम बाहुल्य इलाके में चहल-पहल कम देखने को मिली। कभी बकरीद के अवसर पर गुलजार रहने वाले मस्जिदों के गलियारे व ईदगाह में भी कोरोना संक्रमण के कारण वीरानगी छायी रही।

जनप्रतिनिधियों ने दी बधाई
बकरीद पर कई जनप्रतिनिधियों ने अल्पसंख्यक भाइयों के घर जाकर बधाई दी। खासकर पंचायत चुनाव नजदीक होने के कारण ग्रामीण क्षेत्र में पंचायत चुनाव में उतरने वाले प्रत्याशी अल्पसंख्यक भाइयों के घर जाकर बकरीद की बधाई देने में जुटे रहे।

प्रशासनिक स्तर पर सुरक्षा के किए गए थे व्यापक इंतजाम
बकरीद को लेकर प्रशासन भी पूरी तरह चौकस दिखा। शांति व्यवस्था में पुलिस बल के साथ मजिस्ट्रेट शहर के चौक चौराहों पर देर रात तक अपनी ड्यूटी में जमे रहे। पुलिस गश्त भी आम दिनों की अपेक्षा अधिक दिख रही थी। शहर के विभिन्न चिन्हित संवेदनशील जगहों पर मजिस्ट्रेट के साथ पर्याप्त संख्या में पुलिस बलों की तैनाती दिख रही थी। जिले में 42 स्थानों को चिन्हित कर वहां मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस बलों की प्रतिनियुक्ति की गई थी। शकूराबाद बाजार में भी पुलिस की सक्रियता आम दिनों की तुलना में अधिक दिखी। काको में भी बकरीद का त्योहार शांति पूर्वक ढंग से मनाया गया। इस अवसर पर इस्लाम धर्मावलंबियों ने कोविड 19 के गाइड लाइन का पालन करते हुए ईदुल अज़हा की नमाज़ अदा की और कुर्बानी दी गयी।

खबरें और भी हैं...