पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वारदात:हथियार के बल पर व्यवसायियों को बनाया बंधक, फिर लूट लिए ढाई लाख और जेवरात

जहानाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हुलासगंज बाजार में लूट के बाद पहुंची पुलिस। - Dainik Bhaskar
हुलासगंज बाजार में लूट के बाद पहुंची पुलिस।
  • लूटपाट की घटना को अंजाम देने के बाद दोनों व्यवसायियों को दुकान में कर दिया बंद

स्थानीय थाना से महज कुछ ही दूरी पर स्थित श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर के समीप शुक्रवार की अहले सुबह दो बाइक पर सवार पांच अपराधियों ने दो गोला व्यवसायियों से सरेआम हथियार के दम पर ढाई लाख नगद एवं लाखों रुपये मूल्य के सोने की चेन व अगूंठी लूट ली। लूटपाट करने के बाद अपराधियों ने दोनों व्यवसायियों को एक ही दुकान के अंदर बंद कर दिया और मौके से फरार हो गए। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस पहुंच गई और मामले की तफ्तीश में जुटी है। घटना के संबंध में बताया जाता है कि गोला व्यवसायी फूलचंद साव पहले से अपनी दुकान खोल रखा था।

थोड़ी देर बाद दूसरा व्यवसायी रंजीत कुमार उर्फ पिंटू साव अपनी दुकान खोलने पहुंचा। वह दुकान के पास पहुंचा ही था कि पहले से घात लगाए पांच अपराधियों ने उसे हथियार के दम पर बंधक बना लिया और उसे पहले से खुले फूलचंद साव की दुकान में लेकर चला गया। वहां दोनों व्यवसायियों को बंधक बना लिया और दोनों से तकरीबन ढाई लाख नगद एवं पिंटू साव के गले से सोने की चेन, अंगूठी व मोबाइल लूट लिये। घटना के बाद स्थानीय व्यवसायियों में अपराधियों के साथ सिस्टम के खिलाफ भी आक्रोश देखा जा रहा है। व्यवसायियों ने घटना में शामिल अपराधियों को चिन्हित कर तुरंत कार्रवाई की मांग की है।

  • हुलासगंज में अल सुबह हुई इस घटना के बाद व्यवसायियों में फैला दहशत
  • दो बाइक पर सवार होकर आए थे पांच अपराधी, जांच में जुटे पुलिस अधिकारी

अपराधियों के खिलाफ भुक्तभोगी व्यवसायी ने दर्ज कराया केस
इस संबंध में हुलासगंज थाने में रंजित कुमार एवं फुलचंद प्रसाद के द्वारा प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। दर्ज प्राथमिकी में रंजित कुमार ने उल्लेख किया है कि वह जैसे ही अपनी दुकान पर पहुंचा और अपनी गाड़ी से उतरा, उसे तीन अज्ञात अपराधियों ने आकर पिस्तौल सटा दिया तथा उनके बगल की फूलचंद प्रसाद की दुकान में लेकर चले गए। इनके बाद उनके जेब में रखे एक लाख रुपया, अंगूठी, सोने की चेन तथा मोबाइल छीन लिया। उन्होंने बताया कि जब वे घर से आ रहे थे तब उनकी दुकान के बगल की सड़क पर दो मोटरसाइकिल लगी हुई थी, जिसमें एक का रंग ब्लू था और दूसरी अपाचे बाइक थी। वहां पर दो-तीन आदमी खड़े थे। वे जैसे ही दुकान पर पहुंचे, उनके साथ इस प्रकार की घटना घट गई। वही फूलचंद प्रसाद ने बताया कि वह अपनी दुकान के बाहर बैठा था। एक आदमी आया और पहले उसकी कनपटी में पिस्तौल सटा दिया। इसके बाद दुकान में अंदर ले गया तथा जेब से एक लाख रुपये एवं गल्ला में रखे लगभग 20 हजार की रेजगारी एवं खुदरा रुपए तथा मोबाइल छीन लिया।

पहले भी अपराधियों ने बनाया है निशाना सुरक्षा को लेकर चिंता
मालूम हो कि लगभग डेढ़ साल पहले अपराधियों ने यहां के मशहूर मिष्ठान विक्रेता पवन पांडे की हत्या कर दी थी, जिसके मुख्य आरोपियों की आज तक गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। वहीं वंशी बीघा पुल पर लगभग साल भर पहले लूट की घटना हुई थी। क्रमबद्ध रूप से थाना क्षेत्र में लूट की घटनाएं घटित होती रही है लेकिन प्रशासन इस पर लगाम लगाने में अभी तक सक्षम नहीं हो पाया है। दिन के उजाले की घटना सीधे तौर पर पुलिस को चुनौती देने जैसा प्रतीत हो रहा है। दिन के उजाले में अपराधियों के द्वारा इस दुस्साहसिक वारदात को अंजाम दिए जाने के बाद एक बार फिर बाजार के व्यवसायियों में अपनी सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ गई है।

खबरें और भी हैं...