बरतें सतर्कता:दस्ताना व मास्क पहनने वाले दुकानदारों से ही सामान खरीदें

जहानाबाद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बेहद जरूरी सामान को छोड़कर बाकी खरीदारी को टालने की कोशिश करें लोग

अब कोरोना वायरस का प्रभाव चरम पर पहुंचने लगा है। ऐसे में वैसी सतर्कता बरतें, जिससे कोरोना की चेन को कमजोर करने में मदद मिल सके। ऐसे में रोजमर्रा की कई व्यवहार पर पूरी सतर्कता बरतने की जरूरत है। यह सुनिश्चित करें कि जिस दुकानदार से सामान खरीद रहे हों या फिर ऑनलाइन डिलीवरी देने वाले ने मास्क और दस्ताने पहने हों। ऐसा न हो तो डिलीवरी न लें और संबंधित कंपनी या कारोबारी से इसकी शिकायत करें। जब खाने की चीजें या किराने का सामान घर पहुंचे तो कार्डबोर्ड या प्लास्टिक पैकेजिंग को फाड़ दें। घर के बाहर रखे कचरे के डिब्बे में पैकिंग मटेरियल को ठिकाना लगा दें।

सेवानिवृत सिविल सर्जन डा.श्रीनाथ प्रसाद बताते हैं कि साफ हाथों से सामान को बाहर निकालें और उन्हें घर के अंदर ले जाएं। अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरह धो लें या सनेटाइज कर लें। दुकान पर दुकानदार को सामान बताते या बिलिंग के वक्त खतरा होता है। इसलिए जो समान खरीदना हो उसकी पर्ची बना लें। मास्क और डिस्टेंसिंग के साथ डिस्पोजेबल दस्ताने भी पहनें, ताकि लेन-देन के दौरान अगर आपने कुछ छू लिया हो तो उससे वायरस को घर में जाने से रोका जा सके।

पेमेंट मोड को आॅनलाइन करने की करें कोशिश, कैश लेन-देन से बचने की जरूरत
सदर अस्पताल स्थित नवजात शिशु देखभाल इकाई के प्रभारी डॉ. अरुण कुमार कहते हैं कि बिलिंग के बाद कोशिश हो कि ऑनलाइन पेमेंट करें। ध्यान रहे कार्ड पेमेंट से भी बचें। कैश लेन-देन करना पडे, तो नोट दस्ताने वाले हाथों से दें या लें। ऐसे समय पर खरीद करने जाएं जब दुकान पर भीड़ कम हो। घर की एंट्री के पास एक काउंटर या टेबल रख लें। कोई समान लाकर पहले कुछ देर यहां रखें और अगर वह पैक समान है तो यहीं उसे डिसइनफेक्ट करें। अगर खाने की चीजें टिन या प्लास्टिक कंटेनर में है तो उन्हें साबुन और पानी से धो लें।

डाक्टर से ऑनलाइन इलाज को दें प्राथमिकता
डॉक्टर से ऑनलाइन, फोन पर या ई-मेल पर बात करें। अगर टेली-मेडिसिन की सुविधा उपलब्ध हो तो इसका इस्तेमाल करें। डॉक्टर से आपके ऐसे सभी प्रोसिजर आगे बढ़ाने को कहें जो फौरन जरूरी न हों। अगर आपको कोरोना के लक्षण हैं तो डॉक्टर को पहले ही इसकी जानकारी दें। सड़क, क्लीनिक या अस्पताल में सही ढंग से मास्क लगाए रहें। किसी भी सतह, काउंटर, रेलिंग, अपने चेहरे, आंखों, नाक या मुंह को न छुएं। डॉक्टर की सलाह के बाद कोशिश करें कि पूरी दवा एक साथ ले लें। एक ही विजिट में फर्स्ट एड बॉक्स की दवाएं और घर के दूसरे मेंबर्स की रूटीन में ली जाने वाली दवाएं भी खरीद लें। जैसे बीपी या शुगर की दवाएं।

खबरें और भी हैं...