पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डांस का जलवा:नामांकन के समय हाथी-घोड़ों व डांस का जलवा, खर्च का हिसाब किताब नहीं

अरवल15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान मनमाना खर्च करने पर पूरी तरह रोक लगा दी गई

पंचायत चुनाव के सरगर्मी सदर प्रखंड क्षेत्र में देखी जा रही है मुखिया ग्राम पंचायत सदस्य जिला परिषद पद सरपंच पद एवं अन्य पदों का नामांकन की प्रक्रिया चल रही है। ऐसे में नामांकन को लेकर प्रत्याशियों के समर्थक घोड़ा चार पहिया वाहन एवं सैकड़ों की संख्या में दोपहिया वाहनों के काफिले के साथ शामिल हो रहे हैं। विभिन्न पदों के लिए प्रत्याशियों के नामांकन के दौरान प्रशासन की हनक नामांकन कच्छ के बाहर बिल्कुल नहीं है। ना तो धारा 144 और ना ही कोरोना गाइडलाइन का पालन और ना ही आदर्श आचार संहिता का डर नामांकन करने आ रहे प्रत्याशियों में नहीं दिख रहा है।

जबकि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान मनमाना खर्च करने पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है। लेकिन यह धरातल पर दिख नहीं रहा है। राज निर्वाचन आयोग ने भले ही अपनी गाइडलाइन जारी की हो, लेकिन उसका अनुपालन होते नहीं देखा जा रहा है। चुनाव में खर्च की गई राशि का हिसाब भी सभी को देखना पड़ेगा सभी प्रत्याशी को तय सीमा में ही राशि खर्च करनी पड़ेगी यानी कि पंचायत चुनाव मैदान में उतरे विभिन्न पद के प्रत्याशी निर्धारित राशि के अंदर ही खर्च कर सकेंगे इस कड़ी में मुखिया सरपंच प्रत्याशी 40 हजार ही खर्च कर पाएंगे।

खबरें और भी हैं...