दुस्साहस:गौतमबुद्ध स्कूल में गेट का ताला बंद होने पर दीवार फांदकर घुस गए कई परीक्षार्थी

जहानाबाद9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्यारह केन्द्रों पर संपन्न हुई सिपाही भर्ती की परीक्षा, पूरे दिन शहर में रही सरगर्मी

शहर मे विभिन्न केंद्रों पर रविवार को हुई सिपाही भर्ती परीक्षा को लेकर पूरे दिन सरगर्मी बनी रही। परीक्षा केंद्रों के इर्द-गिर्द सुबह से शाम तक लोगों की भीड़ लगी रही। दोनों सिटिंग में परीक्षा शुरू होने के घंटा भर पूर्व से सवाल वायरल होने की सूचना सामने आने से माहौल में खलबली और बढ़ती दिखी। विभिन्न परीक्षा केंद्रों के बाहर परीक्षार्थियों व उनके अभिभावकों का झुंड मोबाइल पर आए प्रश्न पत्रों एवं आंसर शीट का मिलान करने में मशगूल दिखा। हालांकि मोबाइल पर वायरल हुए प्रश्नपत्र फर्जी थे, इसकी संवाद प्रेषण तक आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई थी। इधर वायरल प्रश्न पत्र का आंसर शीट तैयार करने में जुटे परीक्षार्थियों को केंद्र मे प्रवेश में विलंब होने पर गेट पर कइयों को काफी फजीहत उठानी पड़ी।

पौने दस बजे के बाद शहर के गौतमबुद्ध एवं मुरलीधर हाई स्कूल परीक्षा केंद्र पर पहुंचे कई परीक्षार्थी गेट बंद होने के बाद चहारदीवारी तड़पकर परीक्षा केंद्र में प्रवेश करते दिखे। इधर एएनएस कॉलेज परीक्षा केंद्र पर भी विलंब से पहुंचे परीक्षार्थी द्वारा गेट खोलने को लेकर हल्ला मचा रहे थे। वहां मौके पर पहुंचे एएसपी हरिशंकर कुमार ने बवाल करने वाले एक अभ्यर्थी को हिरासत में ले फटकार लगाई। बाद में वे दल बल के साथ गौतमबुद्ध हाईस्कूल परीक्षा केंद्र पर भी पहुंचे एवं परीक्षा केंद्र के बाहर लगी भीड़ को भगाया। बाद में प्रशासनिक स्तर पर शांतिपूर्ण परीक्षा संपन्न का दावा किया गया है।

11 केन्द्रों पर प्रतिनियुक्त किए थे पर्याप्त पुलिस बल और मैजिस्ट्रेट
जिले में रविवार को सिपाही भर्ती लिखित परीक्षा का आयोजन 11 केन्द्रों पर दो पालियों में स्वच्छ, निष्पक्ष व शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। प्रथम पाली 10 बजे पूर्वाह्न से 12 बजे तक एवं द्वितीय पाली 02 बजे से 04 बजे तक आयोजित हुआ। परीक्षा में दोनों पालियो में 12500 परीक्षार्थी में 11720 शामिल हुए जबकि 780 अनुपस्थित रहे। प्रथम पाली में 6250 में 5864 परीक्षा में शामिल हुए जबकि 386 अनुपस्थित रहे।दूसरी पाली में 6250 में 5856 परीक्षा में शामिल हुए जबकि 394 अनुपस्थित रहे। शांतिपूर्ण परीक्षा के लिए स्टैटिक दंडाधिकारी सह प्रेक्षक, पुलिस पदाधिकारी, जोनल दंडाधिकारी सह समन्वय प्रेक्षक, उड़नदस्ता दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गयी थी।

उड़नदस्ता दल की हुई थी प्रतिनियुक्ति
परीक्षा के स्वच्छ संचालन करने व केन्द्रों का औचक निरीक्षण करने के लिए उड़नदस्ता दल की प्रतिनियुक्ति की गई थी। साथ हीं उड़नदस्ता द्वारा कदाचार करते हुए पाये जाने वाले व्यक्तियों व अभ्यर्थियों के विरूद्ध तत्काल आवश्यक कार्रवाई के लिए निर्देशित किया गया था। अपर समाहर्ता अरविंद मंडल को सहायक संयोजक के रूप में नामित किया गया था। परीक्षा को कदाचार मुक्त बनाने के लिए फर्जी परीक्षार्थी एवं ब्लू-टूथ इत्यादि इलेक्ट्रॉनिक उपकरण का प्रयोग करने पर रोक लगाई गई थी।

केन्द्राधीक्षक को निर्देश दिया गया था कि परीक्षा के दिन सभी कोटि के कर्मी, पदाधिकारी, अभ्यर्थी निश्चित रूप से मास्क का उपयोग करेंगे। बिना मास्क के किसी भी परीक्षार्थी को पाया गया तो उन्हें प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। मुख्य प्रवेश द्वार पर भीड़ नहीं लगाने तथा अभ्यर्थियों एवं वीक्षकों को पंक्तिबद्ध तरीके से प्रवेश कराने का तथा कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु राज्य सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी अद्यतन दिशा-निर्देश, एसओपी, गाइडलाइन का अनुपालन करने का भी निर्देश दिया गया था।

उड़नदस्ता दल की हुई थी प्रतिनियुक्ति
परीक्षा के स्वच्छ संचालन करने व केन्द्रों का औचक निरीक्षण करने के लिए उड़नदस्ता दल की प्रतिनियुक्ति की गई थी। साथ हीं उड़नदस्ता द्वारा कदाचार करते हुए पाये जाने वाले व्यक्तियों व अभ्यर्थियों के विरूद्ध तत्काल आवश्यक कार्रवाई के लिए निर्देशित किया गया था। अपर समाहर्ता अरविंद मंडल को सहायक संयोजक के रूप में नामित किया गया था। परीक्षा को कदाचार मुक्त बनाने के लिए फर्जी परीक्षार्थी एवं ब्लू-टूथ इत्यादि इलेक्ट्रॉनिक उपकरण का प्रयोग करने पर रोक लगाई गई थी। केन्द्राधीक्षक को निर्देश दिया गया था कि परीक्षा के दिन सभी कोटि के कर्मी, पदाधिकारी, अभ्यर्थी निश्चित रूप से मास्क का उपयोग करेंगे। बिना मास्क के किसी भी परीक्षार्थी को पाया गया तो उन्हें प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। मुख्य प्रवेश द्वार पर भीड़ नहीं लगाने तथा अभ्यर्थियों एवं वीक्षकों को पंक्तिबद्ध तरीके से प्रवेश कराने का तथा कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु राज्य सरकार एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी अद्यतन दिशा-निर्देश, एसओपी, गाइडलाइन का अनुपालन करने का भी निर्देश दिया गया था।

खबरें और भी हैं...