पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आयोजन:हिन्दी देश की आत्मा, पूरे देश को जोड़ने का संपर्क सेतु

जहानाबाद9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हिन्दी दिवस पर एसएन काॅलेज में कार्यक्रम में उपस्थित वक्ता। - Dainik Bhaskar
हिन्दी दिवस पर एसएन काॅलेज में कार्यक्रम में उपस्थित वक्ता।
  • हिंदी दिवस समारोह और भाषण प्रतियोगिता का आयोजन, मौके पर मौजूद लोगों ने रखे अपने विचार

स्थानीय एसएन सिन्हा कॉलेज हिंदी विभाग की ओर से मंगलवार को हिंदी दिवस समारोह सह भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता हिन्दी के विभागाध्यक्ष डा.उमाशंकर सिंह ने किया। हिंदी दिवस समारोह का श्रीगणेश हिंदी गीत “भारत-जननी एक हृदय हो” गीत से किया गया। सभागार में उपस्थित छात्र छात्राओं ने मिलकर इस गीत का सस्वर पाठ किया, जिससे पूरे सभागार में इस गीत की गूंज ने वातावरण को हिंदीमय बना दिया। भाषण प्रतियोगिता में विभिन्न कक्षाओं के छात्र-छात्राओं की सहभागिता रही।

इस प्रतियोगिता में कुल 14 प्रतिभागी शामिल हुए। भाषण का विषय- ‘हिंदी और राष्ट्रीय एकता, हिंदी और रोजगार तथा हिंदी की उपयोगिता’ पर प्रतियोगियों ने अपनी इच्छानुसार विषय का चयन कर भाषण प्रतियोगिता में भाग लिया। भाषण प्रतियोगिता में वक्ता स्टूडेंट्स ने हिन्दी की गौरवगाथा पर फोकस करते हुए कहा कि हिन्दी को वास्तव में उसकी असली गौरव को स्थापित करने के लिए छात्र-छात्राओं को ही अपनी मातृभाषा के प्रति अभिरूचि बढ़ानी होगी। वक्ताओं ने कहा कि देश की मातृभाषा के साथ अब तक अपेक्षित न्याय नहीं हुआ है। हिन्दी को देश की पहचान से जोड़ने के लिए आम लोगों में विशेष भावनात्मक अहसास जगाने की जरूरत है। हिन्दी एक समृद्ध भाषा है जिसे विश्व के सैकड़ों देशों में इस्तेमाल किया जाता है लेकिन देश में इस गौरवपूर्ण भाषा के प्रति अपेक्षित न्याय नहीं किया जाना अफसोसजनक है।

फौजिया फातिमा रही अव्वल
प्रतियोगिता में छात्रा फौजिया फातिमा प्रथम एवं बीए हिंदी प्रतिष्ठा का छात्र राहुल द्वितीय तथा बीसीए प्रथम वर्ष की छात्रा सुप्रिया कुमारी को तृतीय स्थान मिला। सांत्वना पुरस्कार से ईशा, सपना, अंकित, यासमीन जहां और जुही को पुरस्कृत किया गया। सभी प्रतिभागियों को उनके स्थान के अनुरूप उपयोगी पुस्तकें, प्रमाण पत्र एवं स्मृति चिन्ह प्रदान किए गए।

समारोह में उपस्थित रहे प्रमुख लोग
इस समारोह में डॉ. अमर किशोर, डॉ. बबलु कुमार, डॉ. राज कुमार मिश्रा, डॉ. नूतन कुमारी, मंदाकिनी कुमारी, गीता कुमारी, सत्येंद्र कुमार सिंह, चंदन कुमार, देवव्रत, पंकज कुमार सिंह, राजीव कुमार सिंह, प्रीति कुमारी, मो. मिनहाजुद्दीन अहमद, शशि भूषण कुमार, रास नारायण भगत, विजय मेहरा, जनमेजय कुमार रंजन कुमार, विकास कुमार आदि ने उपस्थित होकर आयोजन को सफल बनाया।

खबरें और भी हैं...