परेशानी / लॉकडाउन की वजह से अंडा व्यवसाय पर प्रतिकूल असर, जिले के अंडा विक्रेताओं को हो रही परेशानी

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

जहानाबाद. कोरोना संक्रमण से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों में अंडा एक प्रमुख स्रोत रहा है। लेकिन लॉकडाउन की वजह से जिले में अंडा व्यवसाय पर भारी व प्रतिकूल असर दिख रहा है। इसका असर थोक और खुदरा व्यवसाय पर पड़ा है। पहले सालों भर अंडा की बिक्री करीब एक जैसी होती थी। हां, ठंड के समय में बिक्री कुछ बढ़ जाती थी। लेकिन, जबसे लॉकडाउन लगा है, अंडा व्यवसाय पर इसका असर है। खुदरा बिक्री तो जारी है, परंतु होटल, रेस्टोरेंटस आदि के बंद रहने से संस्थागत बिक्री पर बुरा प्रभाव पड़ा है।

विद्यालय बंद रहने से भी इसकी बिक्री पर असर पड़ा है। मालूम हो कि प्रत्येक सरकारी विद्यालयों में सप्ताह में एक दिन अंडा अथवा कोई एक फल दिया जाना है। प्राइवेट विद्यालय भी बंद हैं। अभी अंडे की बिक्री मुख्य रूप से घरेलू उपयोग में हो रही है। लॉकडाउन-चार में अंडे की बिक्री बढ़ी है। अंडा व्यवसायियों ने बताया कि वे लोग एक पेटी अंडा आठ सौ रुपये में लाते है। जिसमें 210 अंडा रहता है।

परंतु, पूर्व में अंडा की पेटी 700 से 750 रुपये में मिल जाता था। अभी एक पेटी पर 50 से 100 रुपए की वृद्धि हुई है। इनलोगों ने कहा कि अंडा घरेलू उपयोग में ही खरीदे जा रहे हैं। गांव में भी अंडे की बिक्री होती है। बाजार में तो लोग कम आते हैं। छह रुपये पीस के हिसाब से अंडा की बिक्री हो रही है। इधर, डॉ. बीके झा ने कहा कि अंडा खाने से शरीर को कोई नुकसान नहीं है। इसमें रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती ही है।
पोषण वाटिका की साग-सब्जी जरूरतमंदों में बांटी जाएगी
जिले में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव को लेकर स्कूल के बंद अवधि में पोषण वाटिका से उत्पादित साग-सब्जियों को रसोईया समेत जरूरतमंद लोगों में वितरण किया जाएगा। एमडीएम के निदेशक ने कोविड-19 आपदाकाल में तत्काल जरूरतमंद लोगों के बीच पोषण वाटिका की उत्पादक साग-सब्जियों का वितरण की अनुमति दी है।

उन्होंने इस जिले के एमडीएम डीपीओ को भेजे आदेश पत्र में कहा है कि कोरोना महामारी काल में साग-सब्जियों का खरीददारी करने में असमर्थ बच्चों के परिवार व रसोईया के बीच स्कूलों के पोषण वाटिका की उत्पादक साग-सब्जियों का वितरण किया जा सकता है।

डीपीओ ने सभी बीईओ, बीआरपी व हेडमास्टरों को आदेश का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा है। मालूम हो की काेरोना के संक्रमण को लेकर लोगों को काफी परेशानियां बढ़ गई है। जिसकों लेकर यह निर्णय लिया गया है। जिले में कोरोना काल को लेेकर जिला प्रशासन काफी सतर्कता बरत रहा है। लोगों को खाने पीने की कोई परेशानी नहीं हो इसका पूरा ख्याल रखा जा रहा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना