पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना अपडेट:1000 लोगों की जांच में नहीं मिला एक भी केस, एक्टिव केस पंद्रह पर पहुंचा

जहानाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • संक्रमण से बचाव को लेकर बरतें विशेष सतर्कता, मास्क का उपयोग जरूरी

जिले में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर प्रभावी ढंग से ब्रेक लगता दिख रहा है। शुक्रवार को भी जिले के विभिन्न जांच सेंटरों पर दो हजार लोगों की जांच में एक भी व्यक्ति संक्रमित नहीं पाया गया। आधिकारिक जानकारी के अनुसार शुक्रवार को जिले के विभिन्न जांच केंद्रों पर दो हजार लोगों की कोरोना जांच की गई। चार नए रिकवरी के साथ जिले में एक्टिव कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या घटकर पंद्रह पर पहुंच गई है। फिलहाल जो हालात दिख रहे हैं, उससे ऐसा प्रतीत हो रही है कि जिले में कोरोना के गिने चुने दिन शेष रह गए हैं। इधर कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगातार कवायद की जा रही है। जांच के साथ-साथ वैक्सीनेशन की भी गति बढ़ाने का प्रयास किया जा रहा है। टीका एक्सप्रेस पंचायतों तक पहुंच रही है और अब वैक्सीनेशन को अपेक्षित गति मिलने लगी है। कोरोना पॉजिटिव सभी शेष बचे मरीजों को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी है। अरवल| मरीजों की संख्या में कमी दर्ज की जा रही है। सिविल सर्जन डॉ. अरबिंद कुमार ने बताया कि एक नए संक्रमित मरीज की पहचान हुई है। रैपिड एंटीजन किट से 693 लोगों की जांच कि गई जिसमें सभी की रिपोर्ट निगेटिव आयी है। वही ट्रू नेट जांच में एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। ट्रू नेट जांच के लिए 58 सैम्पल और आरटीपीसीआर जांच के लिए 400 लोगों का सैम्पल लिया गया। कोरोना जांच के नोडल पदाधिकारी डॉ बैजनाथ प्रसाद ने बताया कि रैपिड एंटीजन किट से सदर अस्पताल में 28, अरवल पीएचसी में 128, कलेर पीएचसी में 104, करपी पीएचसी में 212, कुर्था पीएचसी में 131 और बंशी पीएचसी में 91 लोगों की जांच की गई जिसमें सभी की रिपोर्ट निगेटिव आयी है।

खबरें और भी हैं...