सुझाव / जून तक भीड़-भाड़ वाले संस्थानों के खुलने पर प्रतिबंध जारी रखने की सीएम से सिफारिश

Recommendation from CM to continue ban on opening of congested institutions till June
X
Recommendation from CM to continue ban on opening of congested institutions till June

  • मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ वीडियो काॅफ्रेंसिंग में वर्तमान हालात को देखते हुए जिलाधिकारी ने रखा प्रशासन का पक्ष
  • जुलाई के प्रथम सप्ताह में दो शिफ्टों में स्कूल और कॉलेज खोले जाने का सुझाव

दैनिक भास्कर

May 30, 2020, 05:00 AM IST

जहानाबाद. जिले में कम से कम जून तक लॉकडाउन में किसी प्रकार की रियायत की उम्मीद नहीं दिख रही है। दरअसल जिलाधिकारी नवीन कुमार ने शुक्रवार को सीएम नीतीश कुमार के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में जिला प्रशासन की ओर से जो सुझाव दिया, उससे तो यही प्रतीत हो रहा है। विडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जिलाधिकारी ने जिले के वर्तमान हालात काे देखकर सीएम के समक्ष अपना सुझाव देते हुए कहा कि जिले में अभी सिनेमा हॉल, मॉल, जिम प्वाईंट इत्यादि के संचालन पर प्रतिबंध लगाने की आवश्यकता है।

उन्होंने बच्चों के व्यापक स्वास्थ्य हित को देखते हुए स्कूलों व कॉलेजों को दो शिफ्ट में जुलाई प्रथम सप्ताह से चलाने का सुझाव दिया। साथ हीं उन्होंने सीएम से सामाजिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों पर फिलहाल प्रतिबंध लगे रहने की सिफारिश की। जिला पदाधिकारी ने अपने सुझाव में कहा कि छोटे वाहनों का परिचालन कुछ शर्तों के साथ दी जानी चाहिए।
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में अन्य जिलों से मिले इसी प्रकार के सुझाव 
इसके पूर्व वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से राज्य के सभी प्रमंडलीय आयुक्तों, सभी जिलाधिकारियों एवं सभी पुलिस अधीक्षकों से राज्य के सभी जिलों में 31 मई, 2020 के बाद लॉकडाउन, स्कूल, कॉलेज खोलने, सामाजिक धार्मिक एवं सांस्कृतिक एक्टीविटीज कराने, पब्लिक ट्रासंपोर्ट चलाने सहित अन्य गतिविधियों के संचालित करने हेतु अपने-अपने विचार व सुझाव देने का निर्देश दिया गया।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में लगभग सभी आयुक्तों, जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों ने सुझाव दिया कि जहां बड़े पैमाने पर लोगों की भीड़ होने की संभावना हो, वैसी गतिविधियों पर अभी जून माह तक रोक लगाई जाए। इसके अंतर्गत सिनेमा हॉल, बड़े रेस्टोरेंट, मॉल, स्कूल-कॉलेज, सामाजिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियां, बसों का परिचालन इत्यादि गतिविधि शामिल है।

दो तिहाई मरीजों ने दी कोरोना को मात, 88 ठीक होकर वापस घर गए
कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जिले के लोगों का हौसला भारी पड़ रहा है। जिले में संक्रमित हुए कुल लोगों में दो तिहाई लोगों ने कोरोना को मात देने में कामयाबी हासिल कर ली है। सभी लोग ठीक होकर वापस लौट गए। शुक्रवार को भी संक्रमितों में से चालीस लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इस प्रकार अब तक जिले में कुल पॉजिटिव हुए 136 लोगों में से 88 लोग ठीक हो चुके हैं।

अब सिर्फ हाल में संक्रमित हुए 48 लोग ही आइसोलेशन में रहकर अपना इलाज करा रहे हैं। गुरुवार को जिले से भेजे गए साठ लोगों के सैंपल में से 56 की रिपोर्ट निगेटिव आई है जबकि चार के परिणाम की प्रतीक्षा की जा रही है। शुक्रवार की देर शाम तक जिले में कोई नया पॉजिटिव मरीज नहीं मिला था। 

जिले में पांच सौ बेड के बनेंगे अतिरिक्त आइसोलेशन वार्ड 
जिलाधिकारी ने सीएम को कोराेना मरीजों के लिए उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी देते हुए बताया कि जिले में तीन सौ पचास बेड वाले आइसोलेशन वार्ड पहले से कार्यरत हैं। इसके अलावा पांच सौ बेड के अतिरिक्त आइसोलेशन वार्ड बनाये जा रहें है, ताकि आवश्यकता पड़ने पर उसका उपयोग किया जा सके। उन्होंने बताया कि जिले में लगभग बीस हजार व्यक्ति बाहर से आये है, जिन्हें रोजगार,काम उपलब्ध कराने की प्रक्रिया में तेजी लाई जा रही है।

पल्स पोलियो की तर्ज पर डोर-टू-डोर होम क्वारेंटाइन रहने वाले व्यक्तियों का सर्वे 28 मई से प्रारंभ किया गया है। इसके साथ हीं भीषण गर्मी एवं लू की रोक-थाम हेतु जागरूकता अभियान तथा स्किल सर्वे का भी कार्य कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रखंडों के बाजार भी खुलने चाहिए परन्तु सामाजिक दूरी का अनुपालन के साथ दुकानों की खुलने की इजाजत दी जा सकती है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना