पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आंदोलन:शिक्षकों ने कहा- लंबित मांगों को जल्द करें पूरा, नहीं तो होगा जोरदार आंदोलन

अरवल13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मांगें पूरी नहीं हाेने पर लॉकडाउन के बाद होगा जोरदार संघर्ष

शिक्षक संघर्ष मोर्चा अरवल के जिला संयोजक शैलैन्द्र कुमार की अध्यक्षता में जिला शिक्षा पदाधिकारी एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना के निष्क्रियता के कारण शिक्षकों ने ऑनलाइन विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही अपनी विभिन्न लंबित मांगों के समर्थन में अपने आवास में एक दिवसीय धारना दिया।

शिक्षक नेताओं ने कहा कि दोनों पदाधिकारी सरकार के पत्र की भी अवहेलना कर रहें हैं। सहमत शिक्षकों को वेतन नहीं दिया जा रहा है।जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना अरवल के पास फोन लगाने पर उठाते तक नहीं है। कार्यालय में भी भेंट नहीं होती हैं। आखिर शिक्षकों की समस्याओं का समाधान भी कैसे होगा। जिला शिक्षा पदाधिकारी कहते हैं, कि मेरा भी फोन नहीं उठाते हैं। अतः हम लोगों ने बाध्य होकर लाॅकडाउन के समय ऑनलाइन विरोध प्रदर्शन करने का निर्णय लिया। इस ऑनलाइन विरोध प्रदर्शन के माध्यम से उन्हें कहना चाहते हैं कि आप शिक्षकों से संबंधित लंबित समस्याओं का समाधान शीघ्र करें। अन्यथा लाॅकडाउन के बाद आपके विरूद्ध जोरदार तरीके से प्रदर्शन किया जाएगा।

शिक्षक नेताओं ने कहा कि सहमत वेतन भुगतान, हड़ताल अवधि का वेतन भुगतान, सभी तरह का शिक्षकों का बकाया वेतन भुगतान एक अप्रैल से देय 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि का लाभ, निलंबन अवधि का भुगतान करना, पुराने शिक्षकों को 12 वर्षित एवं 24 वर्षित वित्तीय उन्नयन प्रोन्नति आदि मांगों को पूरा करने की मांग की।

खबरें और भी हैं...