जांच / महंत हत्याकांड की जांच करने पहुंची एफएसएल की टीम बरामद सामान से लिया फिंगर प्रिंट, एक घंटे चली जांच

FSL team arrives to investigate Mahant murder case, finger print taken from recovered goods, investigation lasted one hour
X
FSL team arrives to investigate Mahant murder case, finger print taken from recovered goods, investigation lasted one hour

  • हत्या में शामिल तीन आरोपियों को पुलिस ने कर लिया है गिरफ्तार, सभी ने घटना में शामिल होने की बात कहीं

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

कटेया. कटेया के रसौती नाथ बाबा  मठ के महंत बशिष्ठ उपाध्याय की हत्या की जांच करने शुक्रवार एफएसएल की टीम पहुंची।जहां घटना स्थल पर एक घंटे तक रही।इस दौरान टीम ने  घटना स्थल से बरामद सामानों को जब्त किया। टीम के सदस्यों ने बताया कि  हत्या करने वाले आरोपियों को किसी प्रकार का लाभ नहीं मिले इसके लिए घटना में प्रयुक्त सभी साक्ष्य को इकठ्ठा किया गया है।जिसे बाद में कोर्ट को सौंप दिया जाएगा। विशेषज्ञों ने बताया कि सभी इंसान के अलग अलग  फिंगर प्रिंट होते है। जो किसी भी क्राइम के समय उसपर मौजूद रहते है। उसकी ये पहचान कभी नहीं मिटती है। ये खास तरह के निशान न केवल अंगुलियों पर बल्कि हथेली और तलवों में भी होते हैं।
ग्रामीणों की मांग पर आईं थीं डॉग स्क्वायड की टीम, पहला आरोपी पकड़ाया, फिर खुला हत्या का राज: महंत की हत्या के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए थे।सभी डॉग स्क्वायड की टीम को बुलाने की मांग कर रहे थे।जिसके बाद हत्यारों का पता लगाने के लिए डॉग स्क्वायड की टीम पहुंची। जिसके बाद हत्या में शामिल पहले आरोपी अजय राय के घर पहुंचा। इसके बाद पुलिस ने अजय को गिरफ्तार किया। जब सख्ती से पूछताछ की तो सारा मामला खुलकर सामने आ गया। उसके निशानदेही पर रैपुरा निवासी  नित्यनाद मिश्र उर्फ बड़े मिश्रा और डुमरिया गांव निवासी लक्षमण उपाध्याय को गिरफ्तार किया गया। सभी ने हत्या में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है। पूछताछ के बाद सभी का मेडिकल कराकर जेल भेज दिया गया।
महंत का अंतिम संस्कार में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए नाथ संप्रदाय के नियमों से अंतिम संस्कार किया गया।मठ परिसर में ही उनको समाधि दी गई।इस दौरान संत और आसपास के भक्त मौजुद थे।इस दौरान किसी प्रकार की विधि व्यवस्था की समस्या उत्पन्न नहीं हो इसके लिए पुलिस बलों की तैनाती की गई थी।
जल्द से जल्द दिलाई जाएगी आरोपियों को सजा: हत्या के 12 घंटे बाद ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। एसपी मनोज कुमार तिवारी ने कहा कि जल्द से जल्द आरोप पत्र दाखिल कर स्पीडी ट्रायल चलाकर सजा दिलाई जाएगी। उन्होंने कहा कि अभी टीम इस पूरे मामले की जांच कर रही है।
एफएसएल को मिला ये सामान:  एफएसएल की टीम को  घटना स्थल से हत्या में प्रयुक्त डंडा, चप्पल, गांजा पीने ने प्रयुक्त होने वाला चिलम तथा कई सामान मिले ।जिसे टीम ने जांच के लिए जब्त की ।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना