• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Kauaakol
  • The Continuous Absence Of Doctors In Various Government Animal Hospitals Has Led To The Farmers Not Getting The Benefit Of Government Facilities.

पशु चिकित्सकों की मनमानी से परेशानी:विभिन्न सरकारी पशु अस्पतालों में चिकित्सकों किया लगातार अनुपस्थिति ने पशुपालकों को सरकारी सुविधा का लाभ नहीं मिल पा रहा है

कौआकोलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कौआकोल प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न सरकारी पशु अस्पतालों में चिकित्सकों किया लगातार अनुपस्थिति ने पशुपालकों को सरकारी सुविधा का लाभ नहीं मिल पा रहा है। उन्हें पशुओं की ईलाज के लिए या तो झोला छाप अनुभवहीन चिकित्सकों के सहारे रहना पड़ रहा है या फिर दूर दराज के क्षेत्रों में भटकना पड़ रहा है। जिसके चलते इस तरह की स्थितियों ने पशुपालकों की परेशानी को बढ़ा कर रख दिया है। जानकारी के अनुसार कौआकोल प्रखंड क्षेत्र के मुख्यालय कौआकोल, बरौन तथा फुलडीह में पशु अस्पताल हैं। जहां चिकित्सकों की पोस्टिंग भी विभाग द्वारा किया गया है।

पर इन सभी अस्पतालों में चिकित्सक लगातार अनुपस्थित ही रहते हैं। सिर्फ महीना में एक या दो दिन आकर अपनी उपस्थिति बना गायब हो जाते हैं। किसान अजय कुमार, रौनक कुमार, सुरेंद्र प्रसाद, अविनाश आदि बताते हैं कि सरकार द्वारा बिहार के सबसे पिछले पायदान पर खड़ा कौआकोल प्रखंड में पशुपालकों की सुविधा के लिए अस्पताल बना दिया, चिकित्सकों की पोस्टिंग भी कर दिया, पर इन चिकित्सकों पर जिले के अधिकारियों की पकड़ व निगाह नहीं रहने के कारण अस्पताल में हमेशा ताले ही लटके रहते हैं।

खबरें और भी हैं...