तीन बदमाश गिरफ्तार:दीपावली का दीया जलाकर घर लौट रहे युवक की रास्ते में ही गोली मारकर हत्या

कोंचएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोंच थाना के पड़रामा मठिया पर गुरुवार की शाम एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वहीं धारदार हथियार से प्रहार कर चार लोगों को गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। दो घायलों को बेहतर इलाज के लिए मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया गया है। पूर्व की रंजिश को लेकर गुरुवार की शाम को जमीन विवाद में इस तरह की घटना हुई। बताया जा रहा कि सूरज कुमार दीपावली की शाम दीप जलाकर अपने घर लौट रहा था, तभी रास्ते में गांव के ही विद्यानंद यादव ने अपने बेटे एवं परिवार के साथ मिलकर सूरज कुमार को पकड़ लिया और उसके साथ मारपीट करने लगे। उसके हल्ला करने पर सूरज कुमार के पिता-भाई समेत अन्य लोग जुटे, लेकिन उनके आते-आते सूरज को गोली मार दी गई।

परिजनों को भाला से किया गंभीर
गोली लगने से उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। वहीं उसके पिता एवं उसके भाई को गड़ासा-भाला जैसे धारदार हथियार से प्रहार कर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। गंभीर रूप से घायल हुए लोगों में राजबली यादव, सत्येंद्र यादव, सुखेंद्र यादव एवं राजबली यादव शामिल हैं। घायलों को ग्रामीणों ने तुरंत ही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया, जहां से डॉक्टरों ने राजबली यादव एवं सत्येंद्र यादव को तुरंत मगध मेडिकल कॉलेज गया रेफर कर दिया।

लोगों ने जाम की सड़क गुरुवार की शाम को हत्या की घटना के बाद परिजन उग्र हो गए और मृतक सूरज कुमार के शव को गया-गोह मुख्य मार्ग के कोंच थाना गेट पर रहकर सड़क को जाम कर दिया। इससे दोनों तरफ गाड़ियों की लंबी कतार लग गई। बाद में एसडीएम टिकारी श्रीमती करिश्मा एवं डीएसपी टिकारी गुलशन कुमार के पहुंचने एवं दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने के आश्वासन के बाद लोग सड़क से हटे।

5 कट्ठा जमीन के लिए हत्या
गुरुवार की शाम पढ़रामा मठिया पर हिंसक खेल के पीछे पांच कट्ठा जमीन विवाद कारण बताया जा रहा है। जिसे लेकर सूरज कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी गई। ग्रामीणों की मानें तो पिछले 5 महीने से राजबली यादव एवं विद्यानंद यादव के बीच विवाद चल रहा था। 5 महीने पूर्व राजबली यादव अपनी पुत्री के तिलक लेकर दूसरे जगह गए हुए थे। उसी रात विद्यानंद यादव अपने परिवार के साथ मिलकर उनकी जमीन को जोत लिया था।

पुलिस कार्रवाई करती तो टाली जा सकती थी यह वारदात| तिलक चढ़ाने के बाद जब दूसरे दिन राजबली यादव गांव आए तो देखा कि उनकी जमीन किसी और ने जोत दी है, जिसके बाद उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस में भी की थी। हालांकि दोनों तरफ से मामला दर्ज कराया गया था। इसके बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

प्राथमिक उपचापर में लापरवाही को ले हुई नोकझोंक| सीएचसी लाए सत्येंद्र व राजबली को तुरंत डॉक्टर गया ले जाने की सलाह दिए। परिजन उनको ले जाने ही वाले थे, कि कुछ महिलाएं आईं और कहने लगी कि ठीक से बैंडेज भी नहीं किया है। शरीर से खून निकल रहा है। इसे लेकर परिजन लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा करने लगे।

पुलिस ने तीन को किया गिरफ्तार
शुक्रवार को कोंच थाना में दर्ज कराई गई प्राथमिकी में मृतक के परिजनों ने 11 लोगों को नामजद किया है। आरोपितों में गांव के ही विद्यानंद यादव, शिव कुमार यादव, जितेंद्र यादव, सीता देवी आदि हैं। कोंच पुलिस ने 3 अभियुक्तों शिव कुमार यादव, विद्यानंद यादव एवं जितेंद्र कुमार खेपुर थाना बंदैया जिला औरंगाबाद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

खबरें और भी हैं...